PM Kisan Nidhi: अगर आपसे हुई है ये लापरवाही, तो रुक सकता है पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा

पीएम किसान निधि की किस्त किसानों के खाते में न पहुंचने का कारण फॉर्म भरते वक्त डॉक्यूमेंटशन में गलती भी हो सकती है. अगर किसान ने आधार कार्ड, अकाउंट नंबर और बैंक अकाउंट नंबर में कोई कमी की है तो किसान के खाते में किस्त नहीं पहुंच पाती है. हालांकि इस गलती को घर बैठे ठीक किया जा सकता है. 

PM Kisan Nidhi: अगर आपसे हुई है ये लापरवाही, तो रुक सकता है पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा
फाइल फोटो

नई दिल्लीः केंद्र की द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ देश के लाखों किसानों को मिल रहा है. हाल ही में मोदी सरकार ने 25 दिसंबर को ही पीएम किसान निधि की 2 हजार रुपये की 7वीं किस्त जारी की थी. लेकिन कई किसान अभी भी पीएम सम्मान निधि की राशि का इंतजार कर रहे हैं. लेकिन किस्त का पैसा खाते में न पहुंचने के कई कारण हो सकते हैं. इसमें तकनीकी खामियां, रजिस्ट्रेशन के समय की गलतियां भी एक वजह हो सकती है. जानिए आखिर क्यों रुक जाता है पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा

गलत जानकारी बनती है परेशानी का कारण
दरअसल, पीएम किसान निधि की किस्त किसानों के खाते में न पहुंचने का कारण फॉर्म भरते वक्त डॉक्यूमेंटशन में गलती भी हो सकती है. अगर किसान ने आधार कार्ड, अकाउंट नंबर और बैंक अकाउंट नंबर में कोई कमी की है तो किसान के खाते में किस्त नहीं पहुंच पाती है. हालांकि इस गलती को घर बैठे ठीक किया जा सकता है. इसके लिए आपको कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) भी जाना नहीं पड़ेगा.

ये भी पढ़ेंः NCC स्पेशल एंट्री के जरिए Indian Army में जाने का सुनहरा मौका, यहां जानिए पूरी डिटेल

पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़ी जरूरी जानकारी

  • सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट (pmkisan.gov.in) पर जाएं
  • यहां फार्मर कॉर्नर के अंदर जाकर Edit Aadhaar Details ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • अपना आधार नंबर दर्ज करें और इसके बाद एक कैप्चा कोड डालकर सबमिट करें.
  • अगर आपका केवल नाम गलत होता है यानी कि अप्लीकेशन और आधार में जो आपका नाम है दोनों अलग-अलग है तो आप इसे ऑनलाइन ठीक कर सकते हैं.

इन लोगों की ले मदद  
अगर पीएम किसान निधि की योजना का फॉर्म भरने या फिर कोई और गलती है तो इसे आप अपने क्षेत्र के पटवारी और कृषि विभाग कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं. जहां से आपकों सभी जानकारी मिल जाएगी. ऑफिशियल वेबसाइट पर Helpdesk का ऑप्शन  दिया गया है. यहां क्लिक करने के बाद आप आधार नंबर, अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर एंटर करने के बाद जो भी गलतियां हैं, उन्हें सुधार सकते हैं. यहां पर आधार नंबर में सुधार, किसी नाम की स्पेलिंग में गलती या अन्य गलतियों को  ठीक किया जा सकता है.

ये भी पढ़ेंः पैसे डबल करने का दिखाया सपना, लोगों ने जमा कर दिए लाखों रुपए, फिर ऐसा हुआ..

 

इसक् अलावा अगर आपके स्टेटस में 'FTO is Generated and Payment confirmation is pending' लिखकर आ रहा है तो  फिक्र करने की जरूरत नहीं हैं. FTO  की फुल फॉर्म है Fund Transfer Order. इसका मतलब है  कि 'राज्य सरकार ने लाभार्थी के आधार नंबर, बैंक खाता संख्या और बैंक के IFSC कोड सहित अन्य विवरणों की शुद्धता सुनिश्चित कर ली गई हैं.' आपकी किस्त राशि तैयार हैं और सरकार द्वारा इसे आपके बैंक खाते में भेजने के आदेश दे दिए गए हैं.

क्या है पीएम किसान सम्मान निधि योजना
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं में से एक हैं. इस योजना के तहत देश के करोड़ों किसानों को हर साल 6 हजार रुपए दिए जाते हैं. किसानों के बैंक खातों में 2-2 हजार रुपए की किश्त साल में तीन बार भेजी जाती हैं. इस योजना के तहत केंद्र सरकार का मकसद छोटे-मझोले किसानों की मदद करना है. इस योजना की शुरुआत पीएम मोदी ने साल 2019 में की थी.

ये भी पढ़ेंः बच्चे की तरह चहक उठे शायर एवं पद्मश्री बशीर बद्र, 46 साल बाद मिली पीएचडी की डिग्री

WATCH LIVE TV