close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश में एक और BJP नेता की हत्या, एसआईटी जांच होगी

बीजेपी जहां इसे 'गुंडाराज की वापसी' बता रही है, वहीं कांग्रेस इन हत्याओं को आपसी रंजिश का नतीजा मान रही है.

मध्य प्रदेश में एक और BJP नेता की हत्या, एसआईटी जांच होगी
बीजेपी मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे की हत्या. (फाइल फोटो)

बड़वानी/भोपाल: मध्य प्रदेश के बड़वानी में रविवार को बीजेपी मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे की हत्या कर दी गई. इस मामले की विशेष जांच दल (एसआईटी) से कराई जाएगी. लगातार दो बीजेपी नेताओं की हत्या ने प्रदेश की सियासत गरमा दी है. बीजेपी जहां इसे 'गुंडाराज की वापसी' बता रही है, वहीं कांग्रेस इन हत्याओं को आपसी रंजिश का नतीजा मान रही है. पुलिस के अनुसार, बड़वानी जिले में रविवार को सुबह की सैर पर निकले बीजेपी के बलबाड़ी मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकर की नृशंस हत्या कर दी गई. उनके सिर पर पत्थर से प्रहार किया गया है. उनका शव खेत में मिला है. शव खून से लथपथ था.

पुलिस अधीक्षक यांगचेन डी भूटिया ने इस घटना की एसआईटी की जांच का ऐलान करते हुए पुलिस अधीक्षक भूटिया ने आरोपियों पर पांच हजार का इनाम देने की घोषणा की है.

करीबी ही होगा हत्यारा
राज्य के गृहमंत्री बाला बच्चन ने कहा है कि ठाकरे की हत्या करने वाले उनके करीबी होने की आशंका है. मंदसौर में भी ऐसा ही हुआ था, वहां भी बीजेपी नेता के हत्यारा उनका करीबी निकला.

शिवराज का बयान
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हत्या की बढ़ती वारदातों पर ट्वीट कर कहा, "एक के बाद एक बीजेपी नेताओं की हत्या होना बहुत गंभीर मामला है. कांग्रेस इसको सतही तौर पर लेकर क्रूर मजाक कर रही है. गृह मंत्री के गृह जिले में सरेआम भारतीय जनता पार्टी के लोकप्रिय मंडल अयक्ष मनोज ठाकरे को मार दिया गया."

आपसी विवाद बताया
वहीं, राज्य के जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने बीजेपी नेताओं की हत्या केा आपसी विवाद का प्रतिफल बताया है. उनका कहना है कि राज्य में 15 सालों में जो कुछ हुआ है, उसी के चलते यह हो रहा है. आपसी विवाद है. मंदसौर में बीजेपी नेता की हत्या उन्हीं के लोगों ने की और अब यही बात बड़वानी में सामने आएगी.

ज्ञात हो कि मंदसौर जिले में गुरुवार की रात को नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्या का आरोप बीजेपी कार्यकर्ता मनीष बैरागी पर लगा. हत्या की वजह जमीनी विवाद बताया गया.

गुंडाइज्म की वापसी
बीजेपी की प्रदेश इकाई के महामंत्री वी.डी. शर्मा ने कहा कि राज्य में एक बार फिर वर्ष 2003 से पहले के गुंडाइज्म की वापसी हो गई है. राज्य में लगातार अपराध बढ़ रहे हैं, बीजेपी नेताओं की हत्या हो रही है. शर्मा ने राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि राज्य में अपराधों की बाढ़ सी आ गई है, बीजेपी के नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है. राज्य में अपराधों पर विराम नहीं लगा तो बीजेपी इसके खिलाफ सड़कों पर उतरेगी.

पुतला दहन होगा
वहीं, बीजेपी ने बीजेपी नेताओं की हत्याओं के विरोध में सोमवार को सभी जिला मुख्यालयों पर राज्य सरकार के पुतलों के दहन का ऐलान किया है. सोमवार को दोपहर दो बजे जिला मुख्यालयों पर बीजेपी विरोध प्रदर्शन कर पुतलों का दहन करेगी.

(इनपुट-आईएएनएस)