close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश के मंत्रियों से नाराज हैं SP-BSP के विधायक, मुख्यमंत्री से कर सकते हैं मुलाकात

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को समर्थन देने वाले बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के विधायक मंत्रियों के रुख से नाराज हैं. इस स्थिति से वह मुख्यमंत्री कमलनाथ को भी अवगत कराने को तैयार हैं.

मध्य प्रदेश के मंत्रियों से नाराज हैं SP-BSP के विधायक, मुख्यमंत्री से कर सकते हैं मुलाकात
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (फाइल फोटो)

भोपाल: मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को समर्थन देने वाले बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के विधायक मंत्रियों के रुख से नाराज हैं. इस स्थिति से वह मुख्यमंत्री कमलनाथ को भी अवगत कराने को तैयार हैं.

राज्य में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार, बहुजन समाज पार्टी के दो, सपा के एक और चार निर्दलीय विधायकों के समर्थन के बल पर सत्ता में है. राज्य में कांग्रेस को पूर्ण बहुमत हासिल नहीं है. राज्य के 230 विधायकों के सदन में कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं, वहीं भाजपा के 108 विधायक हैं. राज्य की एक सीट भाजपा के विधायक के सांसद बनने से रिक्त है. 

वर्तमान में मंत्रियों के रवैए से बीएसपी के दोनों विधायक राम बाई और संजीव सिंह कुशवाहा नाराज हैं तो वहीं एसपी विधायक राकेश शुक्ला ने भी अपनी नाराजगी जाहिर की है. 

बीएसपी विधायक राम बाई को इस बात से नाराजगी है कि उनके परिवार के खिलाफ प्रकरण दर्ज किए गए हैं और कई लोग जेल में हैं. राम बाई का कहना है कि कर्नाटक और गोवा जैसा खतरा मध्य प्रदेश में भी है, मध्य प्रदेश सरकार को मेरा समर्थन इसलिए है क्योंकि कमलनाथ को मुख्यमंत्री रहना चाहिए. 

इसी तरह बीएसपी के विधायक संजीव सिंह कुशवाहा का कहना है कि मंत्रियों को संवदेनशील होना चाहिए, मगर वे ऐसे हैं नहीं. विधायकों के काम हो नहीं रहे. कमलनाथ काम कर रहे हैं. वर्तमान सरकार को बसपा सुप्रीमो मायावती ने बाहर से समर्थन दिया है, जो जारी है. 

एसपी विधायक राकेश शुक्ला मंत्रियों के रवैये से नाराज हैं. उनका कहना है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ अच्छा काम कर रहे हैं, मगर कई मंत्रियों का रुख सहयोगात्मक नहीं है. सरकार बने सात माह हो गए हैं, मगर उनके कोई काम नहीं हो रहे हैं, क्षेत्र की जनता को वे क्या जवाब दें. इस मामले से मुख्यमंत्री को अवगत कराएंगे.