दमोह उपचुनावः कांग्रेस प्रत्याशी के इस बयान से गरमायी सियासत, BJP ने भी किया पलटवार

दमोह विधानसभा सीट पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव पर अब सियासी रंग चढ़ने लगा है. आज कांग्रेस और बीजेपी के प्रत्याशियों ने एक दूसरे पर जमकर हमला बोला.

दमोह उपचुनावः कांग्रेस प्रत्याशी के इस बयान से गरमायी सियासत, BJP ने भी किया पलटवार
फाइल फोटो

दमोहः मध्य प्रदेश की दमोह विधानसभा सीट पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस में जुबानी जंग तेज हो गई है. उपचुनाव के लिए कांग्रेस की तरफ से प्रत्याशी बनाए गए अजय टंडन ने बीजेपी के उम्मीदवार राहुल सिंह लोधी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि राहुल ने पार्टी के साथ धोखा किया है. तो वहीं कांग्रेस प्रत्याशी के आरोपों पर राहुल सिंह लोधी ने भी पलटवार किया है. 

अजय टंडन ने राहुल को बताया धोखेबाज 
कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने राहुल लोधी पर सीधा हमला बोला. उन्होंने कहा कि ''राहुल सिंह लोधी ने जब कांग्रेस की तरफ से चुनाव लड़ा तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनके लिए कितनी मेहनत की थी शायद इस बात का उन्हें अंदाजा नहीं है. लेकिन उन्होंने लड़ाई लड़ने की जगह पार्टी छोड़ दी, अजय टंडन ने राहुल सिंह लोधी को नामर्द तक कह डाला. उन्होंने कहा कि राहुल सिंह लोधी दमोह के विकास की बात करते हैं लेकिन उन्हें दमोह की भौगोलिक स्थिति तक मालूम नहीं है. अच्छा होता वह बीजेपी में जाने की बजाए कांग्रेस विधायक रहते हुए लोगों को आवाज विधानसभा में उठाते, लेकिन राहुल सिंह बिके हुए नेता है इसलिए अब दमोह की जनता उनका साथ नहीं देगी.''

राहुल सिंह लोधी का पलटवार 
कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन के आरोपों पर बीजेपी प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने भी पलटवार किया. राहुल लोधी ने कहा कि ''अजय टंडन मुझ से कांग्रेस छोड़ने पर सवाल कर रहे हैं, लेकिन जब प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह ने कांग्रेस छोड़ी थी तब अजय टंडन ने भी कांग्रेस को छोड़ दिया था, इस बात का उन्होंने आज तक कोई जवाब नहीं दिया. राहुल सिंह लोधी ने कहा कि विधायक बनने का सपना देख रहे अजय टंडन हर विधानसभा चुनाव में खुद की पोलिंग तक नहीं जिता पाते थे, उन्होंने खुला आरोप लगाया है कि अजय टंडन ने हमेशा कांग्रेस को हराने की कोशिश की है.''

ये भी पढ़ेंः दमोह उपचुनावः इधर कांग्रेस ने किया प्रत्याशी का ऐलान, उधर बीजेपी ने चल दिया बड़ा दांव, जानिए क्या है समीकरण

बीजेपी और कांग्रेस के लिए महत्वपूर्ण है दमोह उपचुनाव 
दरअसल, बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के लिए दमोह उपचुनाव बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है. ऐसे में दोनों ही पार्टियों ने दमोह में तैयारियां तेज कर दी है. बीजेपी ने मंत्री ने भूपेंद्र सिंह के बाद गोपाल भार्गव को भी दमोह उपचुनाव के लिए प्रभारी बनाया है. तो कांग्रेस के बड़े नेताओं ने भी दमोह में पार्टी के लिए माहौल बनाना शुरू कर दिया है. 

दमोह उपचुनाव के लिए 17 अप्रैल को वोटिंग होगी और 2 मई को नतीजे आएंगे. दमोह विधानसभा सीट कांग्रेस विधायक राहुल सिंह लोधी के इस्तीफे से खाली हुई थी. राहुल सिंह लोधी इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए थे. जिससे यहां दमोह सीट पर उपचुनाव कराए जा रहे हैं. 

30 मार्च तक जमा होंगे नामांकन 
दमोह विधानसभा सीट पर प्रत्याशियों के नामांकन 23 मार्च से भरे जाएंगे, जबकि नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख  30 मार्च रहेगी. तीन अप्रैल तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे. दमोह उपचुनाव का परिणाम 2 मई को आएगा.

ये भी पढ़ेंः उपचुनाव का ऐलान होते ही BJP ने भरा जीत का दम, शिवराज के मंत्री बोले-दमोह में जीत पक्की

WATCH LIVE TV