हिन्दू महासभा निकालेगी "गोडसे यात्रा", कलेक्टर बोले - किसी भी कीमत पर नहीं निकलने देंगे

हिंदू महासभा 14 मार्च को गोडसे यात्रा निकालने जा रही है. यह यात्रा ग्वालियर से शुरू होकर सड़क मार्ग के जरिए देश की राजधानी दिल्ली में हिंदू महासभा भवन तक जाएगी.

हिन्दू महासभा निकालेगी  "गोडसे यात्रा", कलेक्टर बोले - किसी भी कीमत पर नहीं निकलने देंगे
फाइल फोटो

ग्वालियर: हिंदू महासभा 14 मार्च को गोडसे यात्रा निकालने जा रही है. यह यात्रा ग्वालियर से शुरू होकर सड़क मार्ग के जरिए देश की राजधानी दिल्ली में हिंदू महासभा भवन तक जाएगी. हिंदू महासभा का कहना है कि वह इस यात्रा के माध्यम से नाथूराम गोडसे के बारे में लोगों को बताएगी, पूरे रास्तेभर गोडसे ज्ञान बांटा जाएगा. लेकिन ग्वालियर प्रशासन ने इसके लिए अनुमति नहीं दी है. जिला कलेक्टर का कहना है की किसी कीमत पर गोडसे यात्रा नहीं निकलने दी जाएगी.

हिंदू महासभा ने गोडसे की ज्ञानशाला पर लगाया ताला, सामाजिक सद्भाव न बिगड़े इसलिए लिया फैसला

ग्वालियर से दिल्ली तक यात्रा का प्लान
दरअसल पिछले दिनों हिन्दू महासभा नेता बाबूलाल चौरसिया कांग्रेस में शामिल हुए थे. हिन्दू महासभा ने इसको लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को पत्र लिखकर कहा था​ कि आप लोगों को अपनी पार्टी का नाम बदलकर 'गोडसेवादी कांग्रेस' रख लेना चाहिए. हिंदू महासभा का कहना है कि उनके पत्र का जवाब अभी तक नहीं मिला है, इसलिए हम दिल्ली जाकर प्रदर्शन करेंगे.

यात्रा नहीं निकलने दे सकते: कलेक्टर
गोडसे यात्रा के लिए गुरुवार को हिंदू महासभा ने ग्वालियर प्रशासन से अनुमति मांगी. महासभा के प्रदेश महामंत्री विनोद जोशी ने इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर दिया है. हिंदू महासभा के मध्य प्रदेश अध्यक्ष जयवीर भारद्वाज का कहना है कि यात्रा के लिए प्रशासन से इजाजत मिली तो ठीक है, नहीं मिलती है तो भी हम यात्रा निकालेंगे. इन नेताओं के तेवर देख ग्वालियर प्रशासन और पुलिस भी लगातार उनकी हरकतों पर नजर रखे हुए है. कलेक्टर का कहना है कि गोडसे यात्रा निकालने से माहौल खराब हो सकता है, इसलिए किसी कीमत पर यात्रा नहीं निकालने देंगे.

Road Safety World Series का धमाकेदार आगाज, सचिन-वीरू की बदौलत भारत 10 विकेट से जीता, देखें Photos

गोडसे ज्ञानशाला पर लग गया था ताला
आपको बता दें कि ग्वालियर हिंदू महासभा ने इसके पहले गोडसे ज्ञानशाला का शुभारंभ किया था, लेकिन 2 दिन में ही इसे खुद ताला लगा दिया था. क्योंकि देशभर में इसका विरोध शुरू हो गया था. मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी कहा था कि जो समाज विरोधी या राष्ट्रविरोधी काम करेगा उसपर कार्रवाई की जाएगी. इससे पहले ग्वालियर में गोडसे का मंदिर भी बन चुका है. कांग्रेस में शामिल होने वाले बाबूलाल चौरसिया गोडसे की मूर्ति पर जलाभिषेक कर चुके हैं, आरती उतार चुके हैं. 

WATCH LIVE TV