विदेश जाने से पहले हिमाचल घूमना चाहती थी प्रतीक्षा, मां से वीडियो कॉल पर कर रही थी बात, तभी आई मौत!

प्रतीक्षा ने आईआईटी खड़गपुर से बीटेक और एमटेक की डिग्री हासिल की थी. इसके बाद उसने डीएचएल मुंबई और पुणे में टीवीएस कंपनी में नौकरी की. 

विदेश जाने से पहले हिमाचल घूमना चाहती थी प्रतीक्षा, मां से वीडियो कॉल पर कर रही थी बात, तभी आई मौत!
प्रतीक्षा पाटिल/हादसे का शिकार हुई बस के अंदर की तस्वीर. (इमेज सोर्स- फेसबुक)

इरशाद हिंदुस्तानी/बैतूल: हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में हुए हादसे में जिन 9 लोगों की मौत हुई थी, उनमें बैतूल की बेटी प्रतीक्षा पाटिल भी शामिल है. जिस वक्त हादसा हुआ, उस वक्त प्रतीक्षा अपनी मां से फोन पर वीडियो कॉल कर रही थी. उसी दौरान अचानक फोन का संपर्क टूटा और बाद में परिजनों को हादसे में प्रतीक्षा की मौत की खबर मिली. प्रतीक्षा पाटिल के पिता सुनील पाटिल बैतूल के पाथाखेड़ा स्थित वेस्टर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड में मैनेजर हैं और पाथाखेड़ा में ही रहते हैं. 

विदेश जाने वाली थी प्रतीक्षा
प्रतीक्षा पाटिल एक होनहार और काबिल लड़की थी. प्रतीक्षा ने आईआईटी खड़गपुर से बीटेक और एमटेक की डिग्री हासिल की थी. इसके बाद उसने डीएचएल मुंबई और पुणे में टीवीएस कंपनी में नौकरी की. प्रतीक्षा नौकरी से इस्तीफा देकर उच्च शिक्षा के लिए स्पेन जाने वाली थी. हालांकि विदेश जाने से पहले प्रतीक्षा ने हिमाचल प्रदेश घूमने की योजना बनाई और यही हिमाचल का टूर उसकी जिंदगी छीन ले गया.

मां ने किया था मना
प्रतीक्षा 15 दिन पहले ही पाथाखेड़ा से नागपुर के लिए रवाना हुई थी. घर से जाते वक्त ही प्रतीक्षा ने अपनी मां से हिमाचल प्रदेश घूमने जाने की बात कही थी. हालांकि बारिश का मौसम होने की बात कहकर मां ने मना कर दिया था. इसके बाद प्रतीक्षा ने अपने पिता से घूमने जाने की इजाजत मांगी तो बेटी के विदेश जाने को देखते हुए पिता ने इसकी इजाजत दे दी. 

हादसे में 9 लोगों की गई जान
बता दें कि रविवार को प्रतीक्षा और अन्य पर्यटक एक वाहन में सफर कर रहे थे. इसी दौरान किन्नौर में बटसेरी इलाके में पहाड़ टूटकर गिर गया. जिस पर प्रतीक्षा समेत अन्य पर्यटकों को लेकर जा रहा वाहन इसकी चपेट में आ गया. इस हादसे में प्रतीक्षा समेत 9 पर्यटकों की मौत हो गई. 

मृतकों की हुई पहचान
किन्नौर हादसे में मरने वाले लोगों में राजस्थान के सीकर निवासी माया देवी बानयानी, उनका बेटा अनुराग बानयानी और बेटी रिचा बानयानी शामिल हैं. इनके अलावा प्रतीक्षा पाटिल, दिल्ली निवासी ड्राइवर उमराब सिंह, दीपा शर्मा और छत्तीसगढ़ निवासी अमोघ बापट, सतीश कातकबर का नाम शामिल है. इनके अलावा दिल्ली निवासी शिरिल ऑबरोय, मोहाली निवासी नवीन भारद्वाज और किन्नौर निवासी रंजीत सिंह घायल हुए हैं.