close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: पुलिस ने वज्रेश्वरी मंदिर डकैती मामले का पर्दाफाश किया, पांच गिरफ्तार

ठाणे के पुलिस अधीक्षक (एसपी) शिवाजी राठौड़ ने पत्रकारों को बताया कि केंद्र शासित दादर एवं नगर हवेली और जौहर एवं शाहपुर तालुका स्थित गांवों से आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. 

महाराष्ट्र: पुलिस ने वज्रेश्वरी मंदिर डकैती मामले का पर्दाफाश किया, पांच गिरफ्तार
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

ठाणे: महाराष्ट्र के ठाणे जिला के लोकप्रिय वज्रेश्वरी मंदिर में 10 मई को हुई डकैती के मामले में पुलिस ने विभिन्न गांवों से पांच लोगों को गिरफ्तार कर मामले के खुलासे का दावा किया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी. पुलिस ने मंदिर से चोरी की गयी 7.10 लाख रुपये की नकदी में से 2.83 लाख रुपये भी बरामद किये हैं. यह मंदिर मुंबई से 75 किलोमीटर दूर भिवंडी तालुका में स्थित है. तलवारों से लैस करीब छह डकैतों के गिरोह ने 10 मई को तड़के मंदिर के एकमात्र सुरक्षा गार्ड को बांधकर वहां से सात लाख रुपये लूट लिये थे.

ठाणे के पुलिस अधीक्षक (एसपी) शिवाजी राठौड़ ने पत्रकारों को बताया कि केंद्र शासित दादर एवं नगर हवेली और जौहर एवं शाहपुर तालुका स्थित गांवों से आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. उन्होंने बताया कि आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के लिये हाल में सम्पन्न धार्मिक मेले के दौरान समूचे गणेशपुरी इलाके की रेकी की थी.

अधिकारी ने बताया, ‘‘मामले में लिप्त अपराधियों की तलाश के लिये छह टीमें बनायी गयी थी.’’ एसपी ने बताया कि गिरफ्तार व्यक्तियों की पहचान गोविंद गिमबल (35), विनीत सूरजी चिमडा (19), भरत वाघ (22), जगदीश नवतारे (26) और उसके भाई प्रवीण नवतारे (22) के तौर पर हुई है.  उन्होंने बताया कि गिमबल और फरार आरोपी रमेश गाडगे इस अपराध के सरगना हैं. एसपी ने बताया कि जांच दल को उनके काम के लिये पुरस्कृत किया जायेगा.