पश्चिम बंगाल: ममता लेंगी TMC छात्र परिषद के सदस्यों की क्लास, बताएंगी CAA के क्या हैं नुकसान!
X

पश्चिम बंगाल: ममता लेंगी TMC छात्र परिषद के सदस्यों की क्लास, बताएंगी CAA के क्या हैं नुकसान!

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की यह क्लास दो दिन तक चलेगी.

पश्चिम बंगाल: ममता लेंगी TMC छात्र परिषद के सदस्यों की क्लास, बताएंगी CAA  के क्या हैं नुकसान!

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata bannerjee) नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर अब टीएमसी (TMC) छात्र परिषद के सदस्यों को प्रशिक्षण देंगीं. मुख्यमंत्री जनवरी महीने के अंत में कॉलेज, यूनिवर्सिटी से निर्वाचित प्रतिनिधियों एवं युवा संगठन के प्रतिनिधियों की क्लास लेंगीं .

मुख्यमंत्री की यह क्लास दो दिन तक चलेगी. सूत्रों के मुताबिक  बताया जा रहा है कि  इसमें CAA और NRC के विरोध पर विशेष ज़ोर दिया जाएगा . इसके अलावा म्युनिसिपेलिटी चुनाव के पहले भी टीएमसी की अलग शाखा तैयार की जाएगी.  सूत्रों का कहना है कि इस शाखा को भी भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रशिक्षण देंगी.

बता दें ममता बनर्जी सीएए और एनआरसी की मुखर विरोधी रही हैं. सीएए व एनआरसी के विरोध में कई मार्च का नेतृत्व कर चुकीं बनर्जी ने कहा है कि वह राज्य में सीएए के कार्यान्वयन की अनुमति नहीं देंगी.

हाल ही में सीएए और एनआरसी पर उनके विरोधी रुख को एनसीपी चीफ शुरद पवार का समर्थन मिला है. बनर्जी को लिखे पत्र में पवार ने लिखा, "मैं पूरी तरह से आपकी चिंता से सहमत हूं और सभी समान विचारधारा वाले नेताओं और दलों के साथ सीएए के कार्यान्वयन और प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में एकजुटता से खड़े होने के लिए प्रतिबद्ध हूं."

पवार ने कहा कि अधिनायकवादी शासन के खिलाफ उठ खड़े होने और लोकतंत्र को बचाने के लिए किसी भी ठोस योजना के साथ खुद को जोड़ने में उन्हें खुशी होगी. पवार ने समान विचारधारा वाले दलों की बैठक का भी सुझाव दिया और इसमें भाग लेने का वादा किया.

Trending news