close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धरा रह गया 'डॉन' का डर, साढ़े तीन करोड़ में नीलाम हुई दाऊद इब्राहिम की प्रॉपर्टी

इस नीलामी में हिस्सा लेने वाले लोगों ने साफ तौर पर कहा कि दाऊद का तिलस्म अब खत्म हो चुका और उन्हें कोई डर नहीं है.

धरा रह गया 'डॉन' का डर, साढ़े तीन करोड़ में नीलाम हुई दाऊद इब्राहिम की प्रॉपर्टी
दाउद इब्राहिम (फाइल फोटो)

राजीव रंजन सिंह. मुंबई: अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाऊद इब्राहिम के खौफ को हवा में उड़ाते हुए मुंबई स्थित प्रॉपर्टी नीलाम में बड़ी संख्या में लोगों ने बोली लगाई और सबसे ऊंची बोली के रूप में प्रॉपर्टी 3.51 करोड़ रुपये में नीलाम हो गई. इस नीलामी 3.51 करोड़ रुपये की सबसे ऊंची बोली सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्‍ट (एसबीएटी) ने लगाई और इसके साथ ही ये प्रॉपर्टी ट्रस्ट के नाम हो गई. 

भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने स्मगलर और फॉरेन एक्सचेंज एक्ट के तहत कुल नौ प्रॉपर्टी को सीज किया था. इसमें माफिया डॉन और आतंकी दाउद इब्राहिम की भी एक संपत्ति थी. दक्षिण मुंबई के पाकमोडिया स्ट्रीट में अमीना बिल्डिंग 40000 स्क्वायर फीट की चार मंजिला इमारत है. ये दाऊद इब्राहिम की थी. अब इस बिल्डिंग को सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट ने खरीद लिया है.इस प्रॉपर्टी के लिए कुल 25 लोगों ने बोली लगाई थी. सीधे मौके पर पब्लिक बोली में इसकी सबसे अधिक कीमत 1.91 करोड़ रुपये लगाई गई. 

दाउद का वजूद मिटाने की इच्छा 
दक्षिण मुंबई के पाकमोढिया स्ट्रीट पर चार मंजिला इमारत का मालिक आतंकी दाऊद इब्राहिम है. लेकिन अब यह संपत्ति दाऊद इब्राहिम की नहीं रही इसे सैफी बुरहानी अपलिफ्टिंग ट्रस्ट ने खरीद लिया. वित्त मंत्रालय के जरिए इसे नीलाम किए जाने के दौरान ट्रस्ट ने 3.51 करोड़ रुपये में खरीद लिया. बोली लगाने वालों में दिल्ली के वकील भूपेंद्र भारद्वाज भी रहे, जिन्होंने 1.91 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी. भूपेंद्र ने भारत के दुश्मन दाऊद इब्राहिम और ऐसे ही दूसरे लोगों के खिलाफ मुहिम खोल दी है. दाऊद की संपत्ति खरीदने की मंशा स्पष्ट करते हुए उन्होंने कहा था कि भारत के दुश्मनों का कोई भी वजूद भारत में नहीं रहना चाहिए. 

यह भी देखें: डॉन दाऊद इब्राहिम की कहानी 41 साल पुरानी

उन्होंने बताया, 'इससे पहले दाऊद इब्राहिम की तीन संपत्तियां नीलाम की जा चुकी हैं. इसमें एक रेस्टोरेंट, गेस्ट हाउस और एक घर भी था. पिछली नीलामी के दौरान सरकार ने दाऊद इब्राहिम की तीन संपत्तियों को कुल 11 करोड़ रुपये में नीलाम किया था. हालांकि नीलामी के बाद इन संपत्तियों पर कब्जा करने में बोली लगाने वालों को काफी तकलीफ उठानी पड़ी.' बाद में स्थानीय प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद इन संपत्तियों की बोली जीतने वालों को कब्जा मिल सका.

यह भी देखें: दाऊद इब्राहिम के सीक्रेट दोस्तों का DNA टेस्ट

मिली सबसे ज्यादा कीमत 

सरकारी संपत्ति की बोली लगाने के लिए वित्त मंत्रालय द्वारा नियुक्त अधिकारी आरएन डीसूजा ने कहा कि जिनती प्रापर्टी की नीलामी हुई, उसमें सबसे ज्यादा कीमत दाउद इब्राहिम की प्रॉपर्टी के लिए मिली है. इस नीलामी में हिस्सा लेने वाले लोगों ने साफ तौर पर कहा कि दाऊद का तिलस्म अब खत्म हो चुका और उन्हें कोई डर नहीं है. दाऊद के डर से उसकी संपत्तियों को कोई खरीदता था. लेकिन अब यह भय लोगों में नहीं है. उसकी संपत्तियों की बेधड़क नीलाम होते हुए लोग देख रहे हैं और नीलामी में हिस्सा भी ले रहे हैं.