फिर मिस होगी डेडलाइन, नोएडा एयरपोर्ट से कब उड़ेगी पहली फ्लाइट? कितना और इंतजार
Advertisement
trendingNow12306584

फिर मिस होगी डेडलाइन, नोएडा एयरपोर्ट से कब उड़ेगी पहली फ्लाइट? कितना और इंतजार

 Noida International Airport Opening Date: एयरपोर्ट ने यह भी कहा कि कंस्ट्रक्शन वर्क एडवांस स्टेज में है. नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर निर्माण और विकास कार्य अग्रिम चरण में है और हम परिचालन तत्परता की राह में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.

फिर मिस होगी डेडलाइन, नोएडा एयरपोर्ट से कब उड़ेगी पहली फ्लाइट? कितना और इंतजार

Noida Airport News: नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से पहली फ्लाइट के उड़ान भरने में अभी देर है. दिल्ली के करीब 75 किलोमीटर दूर यूपी के गौतमबुद्धनगर जिले के जेवर में बन रहे एयरपोर्ट के कंस्ट्रक्शन वर्क में देरी की खबर आई थी. निर्माण पूरा होने की डेडलाइन पहले सितंबर 2024 रखी गई थी. लेकिन वह मिस होनी तय है. अब माना जा रहा है कि अप्रैल 2025 तक फ्लाइट शुरू होने की उम्मीद है. 

एयरपोर्ट ने कहा, 'मौजूदा कंस्ट्रक्शन की रफ्तार को देखते हुए उम्मीद है कि अप्रैल 2025 तक ऑपरेशन शुरू हो जाएगा. हम अपने ईपीसी (इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण) ठेकेदार टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड और अन्य हितधारकों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं, ताकि निर्माण गतिविधियों की रफ्तार और ऑपरेशन की तैयारी को तेज रखा जा सके.' 

कई एयरलाइन कंपनियों से समझौते

एयरपोर्ट ने कहा कि नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ान संपर्क के लिए कई एयरलाइन कंपनियों के साथ समझौते किए गए हैं. एयरपोर्ट ने यह भी कहा कि कंस्ट्रक्शन वर्क एडवांस स्टेज में है. नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर निर्माण और विकास कार्य अग्रिम चरण में है और हम परिचालन तत्परता की राह में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं. यह एक बड़ी और जटिल परियोजना है, और निर्माण गतिविधियों के अगले कुछ सप्ताह अहम हैं. 

कहां तक पहुंचा टर्मिनल का काम?

बयान में कहा गया है कि रनवे, यात्री टर्मिनल और नियंत्रण टावर पर काम काफी आगे बढ़ चुका है और हाल ही में ग्राउंड हैंडलिंग, वाणिज्यिक क्षेत्रों के संचालन और जरूरी रखरखाव के कॉन्ट्रैक्ट के लिए रियायतें दी गई हैं. माना जा रहा है कि इस प्रोजेक्ट के पूरा होने पर यह भारत का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा. हवाई अड्डे को चार चरणों में 5,000 हेक्टेयर से ज्यादा इलाके में बनाया जाएगा.

गौरतलब है कि कि हवाई अड्डे के पहले चरण का काम चल रहा है और शुरू में सितंबर 2024 तक पूरा होने की उम्मीद थी, जिससे जेवर से यात्री उड़ानें शुरू होने का रास्ता साफ हो जाएगा. प्रोजेक्ट पर काम कर रहे अधिकारियों के अनुसार, पहले चरण में हवाई अड्डे में एक रनवे के साथ एक टर्मिनल भवन होगा, जिसकी सालाना क्षमता 1.2 करोड़ यात्रियों को संभालने की होगी.

(PTI इनपुट के साथ)

Trending news