close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

#HBDayAmitShah: पीएम मोदी ने दी शाह को बधाई, कहा- 'कर्मठ, अनुभवी और कुशल संगठनकर्ता'

'भाजपा को विश्व की सबसे बड़ी पार्टी के रूप में स्थापित करने वाले, करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्रोत...'

#HBDayAmitShah: पीएम मोदी ने दी शाह को बधाई, कहा- 'कर्मठ, अनुभवी और कुशल संगठनकर्ता'

नई दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) का आज जन्मदिन है. अमित शाह आज  55 साल के हो गए हैं.  बीजेपी ने अपनी ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से अपने नेता को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी. पार्टी ने लिखा, 'भाजपा को विश्व की सबसे बड़ी पार्टी के रूप में स्थापित करने वाले, करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्रोत और कुशल संगठनकर्ता भारत के यशस्वी गृह मंत्री और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं.' 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अमित शाह को बधाई देते हुए उन्हें कर्मठ, अनुभवी और कुशल संगठनकर्ता बताया है. पीएम मोदी ने कहा कि अमित शाह भारत को सशक्त और सुरक्षित करने में महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं. 

14 साल की उम्र में RSS से नाता
22 अक्‍टूबर, 1964 को जन्‍मे अमितभाई अनिल चंद्र शाह महज 14 साल की उम्र में आरएसएस से जुड़ गए. उसके बाद उन्‍होंने लंबी सफल सियासी यात्रा की है और इसी अगस्‍त में पार्टी अध्‍यक्ष के रूप में चार साल पूरे किए हैं. 2014 के आम चुनावों में बीजेपी के जबर्दस्‍त कामयाबी हासिल करने में उनकी अहम भूमिका मानी जाती है. इसके चलते पीएम नरेंद्र मोदी ने उनको 'मैन ऑफ द मैच' का खिताब दिया. पिछले अगस्‍त में वह पहली बार राज्‍यसभा सदस्‍य बने हैं. इसके बाद साल 2019 लोकसभा चुनाव में अमित शाह गुजरात की गांधीनगर सीट से पहली बार सांसद बनें.  

बीजेपी के चाणक्य
लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी को प्रचंड जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले अमित शाह को पार्टी का चाणक्य कहा जाता है. वर्तमान में अमित शाह ने महाराष्ट्र और गुजरात में खुद प्रचार की कमान संभाली और दोनों राज्यों में कई रैलियों को संबोधित किया. राजनीतिक विश्‍लेषक मानते हैं कि उनके नेतृत्‍व में पार्टी अपने 'सुनहरे दौर' में पहुंची है लेकिन खुद शाह ऐसा नहीं मानते. उनका कहना है कि पार्टी का अभी श्रेष्‍ठतम दौर आना शेष है. वह इसी लक्ष्‍य के साथ कश्‍मीर से कन्‍याकुमारी तक बीजेपी का परचम लहराने के लिए अथक प्रयास और यात्राएं कर रहे हैं.