close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राहुल के बयान पर स्मृति का पलटवार, 'गांधी परिवार ने खुद को ही भारत रत्न से सम्मानित किया'

स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस प्रमुख का 'परिवार' दूसरों से पुरस्कृत होने के बजाय 'खुद को ही'  देश का सर्वोच्च असैन्य सम्मान ‘भारत रत्न’ प्रदान करता रहा.

राहुल के बयान पर स्मृति का पलटवार, 'गांधी परिवार ने खुद को ही भारत रत्न से सम्मानित किया'
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल पुरस्कार को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कटाक्ष किए जाने पर कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आड़े हाथ लिया . स्मृति ईरानी ने पलटवार करते हुए मंगलवार को कहा कि कांग्रेस प्रमुख का 'परिवार' दूसरों से पुरस्कृत होने के बजाय 'खुद को ही'  देश का सर्वोच्च असैन्य सम्मान ‘भारत रत्न’ प्रदान करता रहा.

उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी ने मंगलवार को कटाक्ष करते हुए ट्वीट किया था, 'मैं अपने प्रधानमंत्री जी को कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड हासिल करने की बधाई देता हूं.' कांग्रेस अध्यक्ष ने तंज किया था, 'यह पुरस्कार इतना प्रसिद्ध है कि इसकी कोई ज्यूरी नहीं है, पहले किसी को दिया नहीं गया और अलीगढ़ की एक गुमनाम कंपनी द्वारा समर्थित है. इसके इवेंट साझेदार पतंजलि और रिपब्लिक टीवी हैं.'  

Gandhi family conferred Bharat Ratna on themselves, says Irani after Cong chief's dig at PM

स्मृति का राहुल पर पलटवार
स्मृति ने पलटवार किया और राहुल गांधी के ट्वीट से टैग करते हुए कटाक्ष किया कि पीएम मोदी को किसी और ने पुरस्कृत किया लेकिन गांधी परिवार के सदस्य खुद को ही देश के शीर्ष असैन्य पुरस्कार से सम्मानित करते रहे. उन्होंने गांधी की टिप्पणी पर चुटकी लेते हुए ट्वीट किया, 'यह एक ऐसे शख्स ने कहा है जिनके शानदार परिवार ने खुद को ‘भारत रत्न’ देने का फैसला किया.' 

Gandhi family conferred Bharat Ratna on themselves, says Irani after Cong chief's dig at PM

सोमवार को पीएम मोदी को सम्मानित किया गया
प्रधानमंत्री मोदी को ‘फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड’ सोमवार को प्रदान किया गया. प्रधानमंत्री कार्यालय से सोमवार को जारी बयान में कहा गया कि यह पुरस्कार तीन आधार रेखा ‘पीपुल, प्रॉफिट और प्लानेट’ पर केन्द्रित है. यह पुरस्कार प्रत्येक वर्ष किसी देश के नेता को प्रदान किया जायेगा. पुरस्कार के प्रशस्ति पत्र के अनुसार नरेन्द्र मोदी का चयन ‘‘देश को उत्कृष्ट नेतृत्व’’ प्रदान करने के लिये किया गया है.