राजस्थान की जंग में घसीटने पर भड़के उमर अब्दुल्ला, छत्तीसगढ़ CM को भेजेंगे नोटिस

एम भूपेश बघेल ने जम्मू-कश्मीर में उमर अब्दुल्ला की रिहाई और सचिन पायलट के बागी होने के कनेक्शन होने की बात कही थी. जिसके बाद उमर अब्दुल्ला ने भूपेश बघेल के सभी आरोपों को खारिज कर दिया और सख्त लहजे में चेतावनी दी.

राजस्थान की जंग में घसीटने पर भड़के उमर अब्दुल्ला, छत्तीसगढ़ CM को भेजेंगे नोटिस
बाईं तरफ भूपेश बघेल और दाईं तरफ उमर अब्‍दुल्‍ला (फाइल फोटो)
Play

श्रीनगर: राजस्‍थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और कांग्रेस के बागी सचिन पायलट (Sachin Pilot) के बीच चल रही सियासी जंग के दौरान जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व मुख्‍यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्‍दुल्‍ला (Omar Abdullah) ने अपने ऊपर लग रहे आरोपों को नकार दिया है. उन्होंने छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल को कानूनी कार्रवाई की धमकी दी है.

दरअसल सीएम भूपेश बघेल ने जम्मू-कश्मीर में उमर अब्दुल्ला की रिहाई और सचिन पायलट के बागी होने के कनेक्शन होने की बात कही थी. जिसके बाद उमर अब्दुल्ला ने भूपेश बघेल के सभी आरोपों को खारिज कर दिया और सख्त लहजे में चेतावनी दी.

सोमवार को उमर अब्‍दुल्‍ला ने एक ट्वीट में लिखा, 'मैं ऐसे झूठे और घटिया आरोप सुनकर तंग आ गया हूं कि राजस्थान में सचिन पायलट जो कुछ भी कर रहे हैं उसका लिंक मेरे और मेरे पिता की इस साल हुई रिहाई से है. बस अब बहुत हुआ. भूपेश बघेल मेरे वकीलों का सामना करने के लिए तैयार रहो.'

बता दें कि उमर अब्‍दुल्‍ला में अपने इस ट्वीट में राहुल गांधी, कांग्रेस, रणदीप सिंह सुरेजवाला और भूपेश बघेल को टैग किया.

ये भी पढ़े- राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले आडवाणी-जोशी पर केस बंद करे सरकार: सुब्रमण्यम स्वामी

जान लें कि उमर अब्‍दुल्‍ला की बहन सारा की शादी के साथ सचिन पायलट हुई है. उनके रिश्तेदार होने की वजह से कांग्रेस ने उनके ऊपर सचिन का साथ देने का शक जताया.

गौरतलब है कि जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से उमर अब्दुल्ला और उनके पिता फारुक अब्‍दुल्‍ला नजरबंद थे. जिन्हें कुछ दिन पहले ही रिहाई मिली है.

VIDEO :