जयपुर: स्वाइन फ्लू, डेंगू के साथ ही अब ब्रूसेलोसिस, 130 केस आये सामने

राजस्थान में स्वाइन फ्लू, डेंगू के साथ-साथ पशुओं से इंसान में फैलने वाली ‘ब्रूसेलोसिस’ के 130 पॉजिटिव मामले मिल चुके हैं. 

जयपुर: स्वाइन फ्लू, डेंगू के साथ ही अब ब्रूसेलोसिस, 130 केस आये सामने
ब्रूसल्ला बैक्टीरिया, 3D इलस्ट्रेशन

आशुतोष शर्मा, जयपुर: राजस्थान में स्वाइन फ्लू, डेंगू के साथ-साथ पशुओं से इंसान में फैलने वाली ‘ब्रूसेलोसिस’ के 130 पॉजिटिव मामले मिल चुके हैं. प्रभावित जिलों में बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर समेत अनेक जिले शामिल हैं. यह तो सरकारी अस्पतालों का आंकड़ा है. इस मामले में स्वास्थ्य निदेशालय की तरफ से पशुपालन विभाग (Animal Husbandry Department, Rajasthan) को एक पत्र लिखकर अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश भी दिए हैं.

स्वास्थ्य निदेशालय का कहना है कि इस बीमारी से पीड़ित पशु के मांस का सेवन करने अथवा उसके दूध के सेवन से इंसान संक्रमण का शिकार हो रहे हैं. जानकारी के अनुसार मनुष्य में ब्रुसेलोसिस (Brucellosis) का टीका नहीं आया है. केवल पशुओं में ही बचाव के लिए टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध है. 

चिकित्सा विभाग (Medical & Health Department) के निदेशक (जन स्वास्थ्य) डॉ. के के शर्मा का कहना है कि प्रभावित जिलों में ब्रुसेलोसिस (Brucellosis) के केस मिलने पर सर्वे करवाया जा रहा है और पशुपालन विभाग (Animal Husbandry Department, Rajasthan) को भी पत्र लिखा जा चुका है. सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को नियंत्रण के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं.

क्या है ब्रुसेलोसिस: 
ब्रुसेलोसिस (Brucellosis) बीमारी जीनस ब्रूसेला के बैक्टीरिया समूह से फैलती है. जो जानलेवा नहीं होती है. संक्रमित माता के ब्रेस्ट फीडिंग से शिशुओं में संक्रमण हो सकता है. बीमारी के लक्षण स्वाइन फ्लू के समान जैसे भूख नहीं लगना, ठंड लगकर बुखार आना, पीठी दर्द,सुस्ती और चक्कर आना, सिर-दर्द, पेट दर्द, जोड़ों में दर्द और वजन लगातार घटता रहता है.