कोटा में 'अतिक्रमण हटाओ अभियान' जोरों पर, 110 बाड़ों को किया गया ध्वस्त

उपखण्ड अधिकारी राजेश डागा ने बताया कि, चारागाह भूमि पर अतिक्रमियों द्वारा पत्थर का कोट कर लगभग 110 से अधिक से बाड़े बनाकर, करीब लम्बे समय से अतिक्रमण कर रखा था.

कोटा में 'अतिक्रमण हटाओ अभियान' जोरों पर, 110 बाड़ों को किया गया ध्वस्त

कोटा: राजस्थान के कोटा के कनवास में सरकारी भूमि पर बड़े पैमाने पर फैले अतिक्रमण पर कारवाई जोरों पर है. कनवास उपखंड में अतिक्रमण हटाओ अभियान चल रहा है. यहां 190 बीघा चारागाह भूमि से अतिक्रमण हटाया गया है और उपखंड अधिकारी राजेश डागा के नेतृत्व में तीन जेसीबी, तीन ट्रैक्टर की मदद से पत्थर के परकोटे बने 110 बाड़ों को भी ध्वस्त किया गया है.

दरअसल, जिले में राजकीय प्रयोजनार्थ आरक्षित भूमि व चारागाह भूमि पर अतिक्रमण के मामलो में निरन्तर कार्रवाई जारी है. कनवास उपखंड के ग्राम पीसाहेड़ा में 190 बीघा चारागाह भूमि से अतिक्रमण हटाकर पौधारोपण की कार्य योजना तैयार कराई गई. उपखण्ड अधिकारी राजेश डागा ने बताया कि, चारागाह भूमि पर अतिक्रमियों द्वारा पत्थर का कोट कर लगभग 110 से अधिक से बाड़े बनाकर, करीब लम्बे समय से अतिक्रमण कर रखा था, जिसको मौके पर तीन जेसीबी एवं तीन ट्रैक्टरों की सहायता से हटाया गया.

उन्होंने बताया कि, चारागाह भूमि पर पड़े पत्थरों को दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए, अतिक्रमियों द्वारा समय की मांग की गई, जिसे ग्राम पंचायत द्वारा उचित समझते हुए चार दिन का समय देते हुए हिदायत दी गई कि, यदि निर्धारित समय चारागाह भूमि से पत्थरों को नहीं हटाया गया तो, उन्हें जब्त कर पंचायत के कब्जे में ले लिया जाएगा.

उपखंड अधिकारी ने बताया कि, भविष्य में बार-बार सीमांकन की आवश्यकता न हो, इसके लिए ग्राम पंचायत को निर्देश दिए गए हैं कि, उक्त अतिक्रमण मुक्त चारागाह भूमि पर पत्थरों की कोट कर, पीलर्स नम्बर लिखे जाने के साथ-साथ ग्राम पंचायत द्वारा चारागाह बोर्ड लगाएं जाएं तथा मनरेगा (MNREGA) के तहत ट्रेन्च खुदाई का कार्य किया जाए.

उन्होंने कहा कि, चारागाह भूमि प्रबंधन के लिए गांवों के लोगों की एक समिति बनाई जाए. ऐसी भूमि पर जन सहयोग से फलदार पौधे, घास लगाई जाए, जिसमें आवारा पशुओं को छोड़ा जाए. फलदार पौधे लगाने से पंचायत की आय में वृद्धि भी हो सकेगी. अभियान के तहत कनवास उपखंड में अब तक 730 बीघा चारागाह भूमि अतिक्रमण मुक्त करवाई जा चुकी है.