भरतपुर में सर्दी के तेवर हुए तीखे, मौसम विभाग ने दी यह चेतावनी...

जिला मुख्यालय पर कड़ाके की सर्दी से लोग परेशान हैं. सर्द हवा के साथ गलन से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है.

भरतपुर में सर्दी के तेवर हुए तीखे, मौसम विभाग ने दी यह चेतावनी...
विजिबिलिटी कम होने की वजह से दिन में भी वाहनों की हेडलाइट जलानी पड़ रही है.

सवाईमाधोपुर: राजस्थान के सवाईमाधोपुर शहर सहित जिले में सर्दी के तेवर तीखे बने हुए हैं. हाड़ कंपा देने वाली सर्दी ने जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित कर दिया है. लगातार गिरते पार ने दिन में भी धूजणी छुड़ा दी है. शीतलहर व गलन ने लोगों को ठिठुरा दिया है. सर्दी से बचने के लिए लोग जगह-जगह अलाव तापते नजर आ रहे है. सुबह-सुबह लोग अलाव के जरिए सर्दी से बचने का उपाय कर रहे हैं.

जिला मुख्यालय पर कड़ाके की सर्दी से लोग परेशान हैं. सर्द हवा के साथ गलन से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है और लोग सर्दी से बचाव के लिए अलाव व गर्म कपड़ों का सहारा लेने को मजबूर हैं. सड़क मार्ग पर गली-मोहल्लो में वाहन चालकों व राहगीरों को तेज सर्दी के चलते आवाजाही में परेशानी उठानी पड़ रही है. वहीं, विजिबिलिटी कम होने की वजह से दिन में भी वाहनों की हेडलाइट जलानी पड़ रही है. 

लोग दिनभर गर्म कपड़े में लिपटे नजर आ रहे है. बीते दो तीन दिनों से सूर्यदेव के दर्शन दोपहर बाद ही हो पा रहे है. दिन के तापमान में लगातार गिरावट से शीतलहर का जोर बढ़ गया है. इधर, मौसम विभाग ने पारे में तेजी से लुढ़कने के पीछे का कारण हिमाचल प्रदेश में हो रही तेज बर्फबारी को बताया है. इसके अलावा राजस्थान के कई हिस्सों में गत दिनों बारिश व ओलावृष्टि से भी सर्दी में अचानक से तेजी आई है. 

वहीं, सुबह से कड़ाके की ठंड से बचने के लिए शहर सहित ग्रामीण अंचलों में लोग जगह-जगह अलाव तापते दिखाई दिए. इसके लिए चाय की थडियों पर लोगों की भीड़ रही. सर्दी के मौसम में लोग चाय की चुस्किया लेते नजर आए. सर्दी के तेज प्रकोप के चलते शाम के वक्त भी शहर की सड़कों पर सन्नाटा पसर जाता है, लोग जल्द ही कामकाज निपटाके अपने घरों में छिप जाते है. 

साथ ही, सुबह स्कूली बच्चों को भी आने-जाने में परेशानी उठानी पड़ रही है. लोग अपने आप को पूरी तरह ढक कर घरों से बाहर निकल रहे है. उधर, गत तीन-चार दिनों से कोहरे के चलते खेतों में सब्जियों सहित गेहूं, सरसों, चना आदि फसलों में ओस की बूंदे नजर आ रही है. इधर, कोहरे व सर्दी से किसानों को सिंचाई में फायदा मिल रहा है. उनको फसलों में ज्यादा सिंचाई नहीं करनी पड़ रही है. कृषि विस्तार सहायक उपनिदेशक चन्द्रप्रकाश बढ़ाया ने बताया कि तेज सर्दी व कोहरे से फसलों की बढ़वार तेजी से होगी.