close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

करौली: जर्जर सड़क से वाहन चालक और राहगीर परेशान, विभागीय अधिकारी नहीं ले रहे एक्शन

इस सड़क मार्ग पर वाहनों का भारी आवागमन रहता है लेकिन सड़क मार्ग पर बने गहरे गड्डों की वजह से आम राहगीरों सहित वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है. 

करौली: जर्जर सड़क से वाहन चालक और राहगीर परेशान, विभागीय अधिकारी नहीं ले रहे एक्शन
प्रतीकात्मक तस्वीर

टोडाभीम: उपखंड क्षेत्र की जर्जर और खस्ताहाल सड़कों से प्रशासन और विभागीय अधिकारी पूरी तरह बेखबर हैं. जिससे आये दिन सड़क दुर्घटनायें होती रहती हैं. क्षेत्र के लोगों द्वारा बार-बार शिकायत करने के बाद भी सार्वजनिक निर्माण विभाग एवं उपखंड प्रशासन के अधिकारी क्षेत्र की जर्जर और खस्ताहाल सड़कों की सुध नहीं ले रहे हैं जिससे क्षेत्र के लोगों में आक्रोश व्याप्त है. 

उपखंड क्षेत्र का टोडाभीम-गुढ़ाचंद्रजी सड़क मार्ग तो बेहद ही जर्जर अवस्था में पड़ा हुआ है. इस मार्ग से गुजरने वाले वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जबकि यह सड़क मार्ग क्षेत्र के सैकड़ो गांवों को मुख्यालय से जोड़ता है और इसके साथ ही उपखंड क्षेत्र के सभी सरकारी कार्यालयों में जाने के लिए इसी सड़क मार्ग पर होकर जाना पड़ता है. 

गौरतलब है कि इसी मार्ग से उपखंड स्तर के सभी अधिकारी भी दिन में कई बार गुजरते हैं लेकिन उन्होंने कभी इस सड़क मार्ग की मरम्मत करवाने की कोशिश नहीं की. इस सड़क मार्ग पर वाहनों का भारी आवागमन रहता है लेकिन सड़क मार्ग पर बने गहरे गड्डों की वजह से आम राहगीरों सहित वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है. सड़क के इन गड्डों को बचाने के चक्कर में आये दिन दुपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल होते रहते हैं. 

क्षेत्र के लोगों का कहना है कि विभागीय अधिकारियों के द्वारा मरम्मत के नाम पर इस सड़क पर मात्र पेचवर्क कार्य करवा दिया जाता है और यह पेचवर्क कार्य भी घटिया स्तर का होने की वजह से कुछ ही दिनों में उखड़ जाता है. ऐसे में क्षेत्र के दर्जनों गांवो के लोगों को पूरे वर्ष ही इस जर्जर सड़क के कारण भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है. टोडाभीम-गुढाचन्द्रजी सड़क मार्ग पर दिन भर में सैकड़ो छोटे-बड़े वाहन गुजरते हैं और परिवहन निगम की कई बसे भी इस मार्ग पर संचालित होती हैं. 

इस सड़क की मरम्मत के लिए स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा विभागीय अधिकारियों सहित उपखंड अधिकारी और जिला कलेक्टर को भी ज्ञापन दिया गया किन्तु ज्ञापन के बावजूद भी ग्रामीणों की मांग पर अधिकारियों द्वारा कोई ध्यान नही दिया गया है. विभागीय अधिकारियों के द्वारा बार-बार अनदेखी की जा रही है जिससे आये दिन दुर्घटनाये होती रहती है तथा लोगों को अपनी जान जोखिम में डालकर यात्रा करनी पड़ रही है. इसके साथ ही कस्बे से पाड़ला होते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 21 को जोड़ने वाले सड़क मार्ग पर भी रंगलाल का पुरा के पास जगह-जगह बारिश का पानी भर जाता है जिससे आये दिन दुपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो जाते हैं.