close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीकानेर: सेंट्रल जेल में होगी 3 स्तरीय सुरक्षा, कैदियों सहित आने-जाने वालों की होगी जांच

राजस्थान के बीकानेर में सेंट्रल जेल की सुरक्षा पर उठ रहे सवालों के बाद अब जेल की सुरक्षा को सख़्त कर दिया गया हैं. जहां जेल की त्रीस्तरीय सुरक्षा करते हुए अब क़ैदियों सहित आने जाने वाले हर शख़्स की ख़ास जांच होगी फिर जेल के अंदर प्रवेश दिया जाएगा हाई अलर्ट के बीच इस तरह के इंतज़ाम किए गए है.

बीकानेर: सेंट्रल जेल में होगी 3 स्तरीय सुरक्षा, कैदियों सहित आने-जाने वालों की होगी जांच
जेल में आने जाने वाले सभी लोगों को इसी त्री स्तरीय जांच प्रक्रिया से गुजरना होगा.

रौनक व्यास/बीकानेर: राजस्थान के बीकानेर में सेंट्रल जेल की सुरक्षा पर उठ रहे सवालों के बाद अब जेल की सुरक्षा को सख़्त कर दिया गया हैं. जहां जेल की त्रीस्तरीय सुरक्षा करते हुए अब क़ैदियों सहित आने जाने वाले हर शख़्स की ख़ास जांच होगी फिर जेल के अंदर प्रवेश दिया जाएगा हाई अलर्ट के बीच इस तरह के इंतज़ाम किए गए है.

अपनी सुरक्षा कमियों और लापरवाही को लेकर हमेशा से सुर्ख़ियो में रहने वाली बीकानेर सेंट्रल जेल को सुरक्षा को लेकर ख़ास पुख़्ता किया जा रहा है. ये वो जेल हैं जहां गैंग वार भी हुए हैं तो वही साथ ही हॉस्पिटल में मोबाइल, तम्बाकू और सिगरेट जैसी चीज़ें आम तौर पर आए दिन मिलती हैं. इस तरह से बिगड़े हालतों के बीच अब सुरक्षा को नई तरह से तैयार किया जा रहा हैं.

जहां अब बीकानेर के केंद्रीय कारागार में क़ैदियों ओर आने जाने वाले सभी लोगों की आधुनिक उपकरण के ज़रिए जांच की जाएगी. जिसको लेकर जेल मे ख़ास इंतज़ाम किए जा रहे हैं. जहां अब बाहर आने जाने वाले क़ैदियों से लेकर आम जन और सिपाहियों को पहले बाहर चेकिंग करवानी होगी. उसके बाद अंदर एंट्री के दौरान अलग से जांच की जाएगी. वहीं अंदर एंट्री के दौरान जेल के मुख्य द्वार पर लगी दो डीएफ़एमबी मशीन से हो कर गुज़रना होगा. फिर होगी अंतिम रूप से तैनात आरएसी के जवानों के द्वारा जांच की जाएगी. 

ऐसे में इतनी सख़्त जांच के बाद जेल के किसी भी कैदी और सिपाही के साथ जेल में आने जाने वाले सभी लोगों को इसी त्री स्तरीय जांच प्रक्रिया से गुज़रना होगा. ऐसा इस लिए किया गया हैं क्योंकि हाल ही में जेल में चल रहे भवन निर्माण के दौरान सीमेंट के कट्टो में नशीले पदार्थ पकड़ा गया. जिसके बाद ऐसा सुरक्षा चक्र तैयार किया गया हैं. वहीं साथ ही 16 सीसीटीवी कैमरों से भी जेल के चप्पे चप्पे पर नज़र रखी जा रही है. आए दिन जेल में मिलने वाले मोबाइल ओर अन्य अपतिजनक चीज़ों पर तो लगाम लगेगा ही साथ ही इस त्रीस्तरीय सुरक्षा के बीच अब जेल की सुरक्षा में परिंदा भी पर नहीं मार सकेगा.