close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीकानेर सीट पर BJP के दिग्गज नेता अर्जुन राम मेघवाल इस बार भी कांग्रेस के लिए बड़ी चुनौती

राजस्थान की बात करें तो 2014 में बीजेपी द्वारा राजस्थान की सभी 25 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की गई थी. जिसमें बीकानेर सीट से अर्जुन राम मेघवाल को जनता का साथ मिला था. 

बीकानेर सीट पर BJP के दिग्गज नेता अर्जुन राम मेघवाल इस बार भी कांग्रेस के लिए बड़ी चुनौती
राजनीति में आने से पहले मेघवाल आईएएस ऑफिसर रह चुके हैं.

बीकानेर: देशभर में 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों को लेकर केंद्र और विपक्ष दोनों ही अपनी तैयारियों में जुट गए हैं. एक ओर जहां सत्ता पर काबिज बीजेपी सभी राज्यों में अपनी पकड़ बनाए रखने के लिए लगातार कोशिश कर रही है. तो वहीं दूसरी ओर विपक्ष भी बीजेपी को केंद्र से हटाने के लिए किसी तरह की कसर नहीं छोड़ना चाहते है. जिसके चलते केंद्र से लेकर राज्यों तक की राजनीति गरमाइ हुई है. 

इसी बीच राजस्थान की बात करें तो 2014 में बीजेपी द्वारा राजस्थान की सभी 25 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की गई थी. जिसमें बीकानेर सीट से अर्जुन राम मेघवाल को जनता का साथ मिला था. इस सीट से अर्जुन राम मेघवाल ने कुल 5,84,932 वोट प्राप्त किए थे. वहीं दूसरे नंबर पर कांग्रेस के शंकर पन्नू रहे थे. वहीं 2009 में हुए आम चुनाव की बात करें तो उस वक्त भी बीजेपी से अर्जुन राम मेघवाल द्वारा ही इस सीट से जीत हासिल की गई थी. 

आपको बता दें, सांसद होने से पहले मेघवाल आईएएस ऑफिसर रह चुके हैं. 1982 में उन्होंने आरएएस परीक्षा उत्तीर्ण की और राजस्थान उद्योग सेवा के लिए चुने गए. बाद में उन्होंने भारतीय प्रशासनिक सेवाओं (आईएएस) में पदोन्नति भी की और कई प्रशासनिक पदों पर काम किया. जिसके बाद बीजेपी ने 2009 में बीकानेर से अपना उम्मीदवार बनाया. 2009 के चुनाव में उन्होंने जीत हासिल की और संसद सदस्य के रूप में शपथ ली. 

बता दें, वह एमपी के रूप में अपने दूसरे कार्यकाल के दौरान, लोकसभा में बीजेपी के मुख्य सचेतक रहे. साथ ही लोक सभा के अध्यक्ष ने भी उन्हें लोक समिति के अध्यक्ष के रूप में नामित किया था. 

जिसके चलते ये कहना गलत नहीं होगा कि राजस्थान की बीकानेर सीट पर बीजेपी को हरा पाना विपक्ष के लिए काफी चुनौती भरा होने वाला है. हालांकि, 2019 में होने वाले आम चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस द्वारा इस सीट से किस पर दांव खेला जाएगा यह देखना बेहद दिलचस्प होगा.