रॉबर्ट वाड्रा आधे से ज्‍यादा सवालों के दे रहे हैं एक ही जवाब, ED रवैये से संतुष्‍ट नहीं

रॉबर्ट वाड्रा आधे से अधिक सवालों पर उनका एक ही जवाब होता है, ये फैक्ट्स मेरी जानकारी में नहीं हैं. दस्तावेजों के वेरिफिकेशन में भी सीमित सहयोग दे रहे हैं.

रॉबर्ट वाड्रा आधे से ज्‍यादा सवालों के दे रहे हैं एक ही जवाब, ED रवैये से संतुष्‍ट नहीं
Photo : IANS

जयपुर: राजस्‍थान की राजधानी जयपुर स्थित क्षेत्रीय मुख्यालय में मनी लॉन्ड्रिंग और लैंड स्कैम के मामले में रॉबर्ट वाड्रा और उनकी मां मौरीन वाड्रा समेत आरोपियों से पूछताछ की गई. मंगलवार सुबह ईडी के दफ्तर पहुंचे वाड्रा परिवार से निदेशालय तमाम सवालों के जवाब चाहता है जिन से अब तक वह बचते रहे हैं. हालांकि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, प्रवर्तन निदेशालय वाड्रा के जवाबों से संतुष्ट नहीं है. इसका कारण ये है कि वह ज्‍यादातर सवालों के एक ही जवाब दे रहे हैं.

रॉबर्ट वाड्रा आधे से अधिक सवालों पर उनका एक ही जवाब होता है, ये फैक्ट्स मेरी जानकारी में नहीं हैं. दस्तावेजों के वेरिफिकेशन में भी सीमित सहयोग दे रहे हैं. वह ईडी के आरोप पत्रों को सिरे से खारिज़ कर रहे हैं. लैंड स्कैम में सीधी भागीदारी से वाड्रा ने इनकार कर दिया है. माना जा रहा है कि उन्‍हें बुधवार को फि‍र बुलाया जा सकता है.

रॉबर्ट को ईडी दफ्तर पहुंचाने के बाद प्र‍ियंका लखनऊ गईं
इससे पहले रॉबर्ट वाड्रा अपने पूरे परिवार के साथ जयपुर क्षेत्रीय मुख्यालय पहुंचे. प्रवर्तन निदेशालय में वाड्रा के दाखिल होने के बाद प्रियंका गांधी लखनऊ रवाना हो गई. सुबह 10:30 बजे से शुरू हुई पूछताछ का दौर लंबा चला. रॉबर्ट वाड्रा की मां मौरीन वाड्रा के स्वास्थ्य को देखते हुए ईडी ने बेहद जरूरी सवाल कर उन्हें दोपहर से पहले होटल जाने की अनुमति दे दी थी. रॉबर्ट को भी लंच टाइम दिया गया, लेकिन लंच के बाद दिल्ली और जयपुर के अधिकारियों की संयुक्त टीम ने सवालों के चक्रव्यूह में रॉबर्ट वाड्रा को घेरा.

उनके साथ मौजूद वकील तमाम दस्तावेजों को वेरीफाई कर रहे हैं. ईडी के पास मौजूद दस्तावेजों और सबूतों की भरमार वाड्रा की मुश्किलें बढ़ा रही है. सूत्रों के अनुसार, अब तक की पूछताछ में वाड्रा ने आधे सवालों के जवाब स्पष्ट तौर पर दिए हैं. जिन सवालों में उनकी भूमिका स्पष्ट तौर पर दिखाई देती है उन सवालों पर वाड्रा में जानकारी नहीं होने की बात को टालने की कोशिश किया. लेकिन पहले गिरफ्तार किए गए आरोपियों की टेलीफोन बातचीत, उनके खातों में लेनदेन और उपलब्ध दस्तावेजों के आधार पर ईडी सच उगलवाने की कोशिश में है.

ED के रॉबर्ट वाड्रा से सवाल
भुगतान राशि का मूल सोर्स क्या था?
कोलायत में जमीन खरीदने का मकसद क्या था?
महेश नागर से आपके रिश्ते कैसे हैं?
जमीन सौदे में लाभ का अंश किस किस में वितरित हुआ?
माँ का कारोबारी दखल और निर्णय में सहमति कितनी हैं?
जमीन फ़र्ज़ी दस्तावेजों से ली जा रही हैं इसकी पूर्व जानकारी थी?
दस्तावेज़ तैयार करवाने में मददगार कौन था?
जमीन का कभी मौका मुआयना किया?
प्रवर्तन निदेशालय के समन पर नहीं आने का कारण?
इसके अलावा दस्तावेजों पर हस्ताक्षर और सहमति को वैरिफाई किया गया?