close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पोकरण: कल से शुरू होगा विश्व प्रसिद्ध रामदेवरा मेला, पूरे देश भर से पहुंच रहे श्रद्धालु

पश्चिमी राजस्थान के महाकुंभ 'रामदेवरा मेला' में भाग लेने के लिए पूरे देश भर से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं. जैसलमेर जिले के पोकरण क्षेत्र के रामदेवरा गांव में बाबा रामदेव की समाधि है. जहां 1 सितंबर से अंतरप्रांतीय मेले की शुरुआत होने जा रही है.

पोकरण: कल से शुरू होगा विश्व प्रसिद्ध रामदेवरा मेला, पूरे देश भर से पहुंच रहे श्रद्धालु
बाबा को भगवान श्रीकृष्ण का अवतार माना जाता है. (फाइल फोटो)

जैसलमेर: पश्चिमी राजस्थान के महाकुंभ 'रामदेवरा मेला' में भाग लेने के लिए पूरे देश भर से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं. जैसलमेर जिले के पोकरण क्षेत्र के रामदेवरा गांव में बाबा रामदेव की समाधि है. जहां 1 सितंबर से अंतरप्रांतीय मेले की शुरुआत होने जा रही है.

बाबा रामदेव की समाधि समिति ने सारी तैयारियां पूरी कर ली है. एक सितंबर से समाधि पर अभिषेक और ध्वजारोहण के साथ बाबा रामदेव का 635वां अंतरप्रांतीय मेला शुरू होगा. इस दौरान मंदिर को सुबह 3 बजे खोला जाएगा, जो देर रात 12 बजे तक खुला रहेगा. 

माना जाता है भगवान कृष्ण का अवतार
रामदेव बाबा को भगवान श्रीकृष्ण का कलयुगी अवतार माना जाता है. उनकी अवतरण तिथि भादवा शुक्ला द्वितीया, के दौरान रामदेवरा मेले की विधिवत शुरुआत होगी.

ब्रहम मुहर्त में होगी मंगला आरती
इस दौरान रविवार को रामदेवरा में ब्रहम मुहर्त में मंगला आरती के अवसर पर बाबा की समाधि के मस्तक पर स्वर्ण मुकुट प्रतिष्ठापन के साथ भादवा मेला शुरु होगा.

दिया था मानवता और समानता का संदेश
बाबा रामदेव ने जाति, धर्म, सम्प्रदाय, ऊंच नीच, अमीरी-गरीबी का भेद मिटाकर सबको मानवता, भाईचारे एवं समानता का संदेश दिया था. इसीलिए उस महापुरुष को लाखों हिन्दू बाबा रामदेव तथा मुसलमान बाबा रामसा पीर के नाम से एक लोकदेवता के रूप में श्रद्धा के साथ पूजा करते हैं.