राजस्थान: लाखों किसानों को मिली राहत, ऋण के लिए कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन
X

राजस्थान: लाखों किसानों को मिली राहत, ऋण के लिए कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन

9 हजार से ज्यादा जीएसएस में आवेदन की ऑनलाइन व्यवस्था करने का निर्देश सहकारिया विभाग ने दिया है.

राजस्थान: लाखों किसानों को मिली राहत, ऋण के लिए कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन

जयपुर: जी मीडिया की खबर दिखाए जाने के बाद में प्रदेश के लाखों किसानों को ग्राम सहकारी समितियों में फसली सहकारी ऋण के लिए आवेदन करने की व्यवस्था कर दी गई है. 

प्रदेश में करीब 9 हजार से ज्यादा जीएसएस है और 50 हजार से ज्यादा ईमित्र है. लेकिन अधिकतर केंद्रों में फसली ऋण की आवेदन की प्रक्रिया में देरी हो रही थी, जिसके कारण मानसून से पहले किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरे साफ तौर पर दिखाई दे रही थी.

प्री मानसून की पहली बारिश की बौछार मरूधरा में जमकर बरस रही है, लेकिन दूसरी और किसानों के चेहरे की चिंता लगातार बढती जा रही है, क्योंकि खेतों में बुआई का वक्त अब नजदीक आ गया है, लेकिन किसानों को ये तक नहीं पता कि फसली ऋण के लिए आवेदन कैसे करना है. 

खबर का हुआ असर
लेकिन जी मीडिया पर खबर दिखाए जाने के बाद सुस्त प्रशासन की आंखे खुली. अब सभी 9 हजार से ज्यादा जीएसएस में आवेदन के ऑनलाइन व्यवस्था करने के निर्देश विभाग ने दिया है. इसके साथ प्रदेश के 50 हजार से ज्यादा ईमित्रों पर भी आवेदन हो सकेगा.

सहकारिता विभाग के रजिस्ट्रार ने जारी किया आदेश
सहकारिता विभाग के रजिस्ट्रार नीरज के पवन ने आदेश दिया है कि सभी जीएसएस में आवेदन के दौरान किसानों को कोई दिक्कत नहीं हो. यदि ऐसा होता है तो संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

किसानों को नहीं थी जानकारी
जी मीडिया की पड़ताल के दौरान सहकारिता विभाग की पोल खुली थी, जहां ग्राउंड जीरो पर ना तो किसानों को ये पता था कि इस बार आवेदन कैसे किए जाएंगे और कब से. 

फसली ऋण की मिलेगी जानकारी
प्रदेश के किसानों को फसली ऋण के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी और इसके साथ साथ उन्हें ये भी जानकारी दी जाएगी कि ऑनलाइन आवेदन के लिए आधार कार्ड जरूरी होगा. आपको बता दें कि इस बार पात्र किसानों को बॉयोमैट्रिक सिस्टम से ही ऋण मिल पाएगा.

Trending news