राजस्थान: गुलाबचंद कटारिया बने विधानसभा में विपक्ष के नेता, राजेंद्र राठौड़ उपनेता

जयपुर में रविवार को विधायक दल की बैठक के दौरान गुलाबचंद कटारिया को नेता प्रतिपक्ष चुना गया है. 

राजस्थान: गुलाबचंद कटारिया बने विधानसभा में विपक्ष के नेता, राजेंद्र राठौड़ उपनेता
विधायक दल की बैठक के दौरान वसुंधरा राजे ने कटारिया के नाम का प्रस्ताव दिया.

शशि मोहन, जयपुर: राजस्थान में विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी के कद्दावर नेता गुलाबचंद कटारिया को प्रतिपक्ष का नेता चुन लिया गया है. कटारिया के नेता प्रतिपक्ष चुने जाने के बाद पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने भी उन्हें शुभकामनाएं दी है. नेता प्रतिपक्ष चुने जाने के बाद कटारिया ने राज्य और केंद्रीय नेतृत्व का आभार भी जताया है. 

आपको बता दें कि, पिछली सरकार में राज्य के गृह मंत्री रहे कटारिया राज्य की राजनीति में चार दशक से सक्रिय है. 2018 के विधानसभा चुनाव में भी उन्होंने उदयपुर से विधायक चुने गए हैं. राज्य विधानसभा में कटारिया ने पहली बार 1970 में कदम रखा था. 1993 में पहली बार भैरो सिंह शेखावत की सरकार के दौरान मंत्री बने कटारिया बीजेपी की सारी सरकार में मंत्री रहे हैं. 1989 में कटारिया 9 वी लोकसभा के लिए चुने गए थे. वर्ष 1993, 1998, 2003, 2008, 2013 और अब 2018 में भी कटारिया उदयपुर विधानसभा क्षेत्र से जीत कर आए हैं. 

जयपुर में रविवार को बीजेपी विधायक दल की बैठक के दौरान पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने गुलाब चंद कटारिया के नाम का प्रस्ताव दिया था. जिससे सर्वसम्मति से बीजेपी के विधायकों ने स्वीकार किया. 

नेता प्रतिपक्ष चुने जाने के बाद कटारिया ने केंद्रीय नेतृत्व का आभार जताते हुए पार्टी के द्वारा दी गई जिम्मेदारी को जवाबदेही से निभाने की बात कही. साथ ही राज्य के बीजेपी विधायकों से पार्टी हित के लिए सहयोग लेने की बात दोहराई. इस दौरान उन्होंने राज्य की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का भी व्यक्तिगत रूप से आभार भी जताया. 

विधायक दल की बैठक के दौरान नेता प्रतिपक्ष के अलावा उपनेता राजेंद्र राठौड़ को चुना गया है. उपनेता चुने जाने के बाद राठौड़ ने कहा कि प्रतिपक्ष इस सरकार में अपनी सकारात्मक भूमिका निभाएगा. 

बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी ने कहा कि जो कर्ज विधानसभा चुनाव में रह गया है. उसको ब्याज समेत लोकसभा चुनाव के दौरान चुकाने जा रहे है. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में पूरी ताकत लगा कर भारतीय जनता पार्टी राज्य की 25 सीटें जीतने जा रही है. 

बैठक के दौरान  केंद्रीय मंत्री और राज्य प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर, राज्य की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी के अलावा राज्य बीजेपी के नेता और विधायक भी मौजूद थे.