कोटा में गुर्जर समाज ने गहलोत सरकार को कहा- 'करेंगे आरपार की लड़ाई'

 कोटा में भी हाडौती गुर्जर समाज ने कर्नल बैंसला को समर्थन देते हुए शनिवार को ही एक मीटिंग आयोजित की. 

कोटा में गुर्जर समाज ने गहलोत सरकार को कहा- 'करेंगे आरपार की लड़ाई'
प्रदर्शनकारियों ने सरकार को पूरा पिक्चर दिखाने की बात भी कह डाली.

मुकेश सोनी, कोटा: गुर्जरों को 5 प्रतिशत आरक्षण आंदोलन की आग कोटा तक पहुंच गई है. शनिवार को कोटा में भी हाड़ौती गुर्जर समाज के बैनर तले पांच जातियों के लोग सड़क पर उतरे हुए हैं. इस दौरान आंदोलन कर रहे लोगों ने कर्नल बैंसला के नेतृत्व में गहलोत सरकार के खिलाफ आरपार की लड़ाई का ऐलान किया है.

पूरे राज्य में गुर्जरों को आरक्षण की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन की चिंगारी भड़क चुकी है. कोटा में भी हाडौती गुर्जर समाज ने कर्नल बैंसला को समर्थन देते हुए शनिवार को ही एक मीटिंग आयोजित की. जिसमें बंजारा, रायका सहित पांच जाति के लोग मौजूद रहे. 

बैठक के बाद वहां मौजूद सभी लोगों ने पैदल मार्च करते हुए सम्भागीय आयुक्त कार्यालय पहुंच कर धरना भी दिया. करीब 1 घण्टे तक धरना देने के बाद समाज के लोगों ने पीएम व मुख्यमंत्री के नाम प्रशासन को ज्ञापन सौंपा. प्रदर्शन के दौरान उन्होंने सरकार को उग्र आंदोलन की चेतावनी दी.

 

सरकार ने किया विश्वातघात

गुर्जर समाज के लोगों ने सचिन पायलट पर भी निशाना साधते हुए कहा कि सरकार ने गुर्जर समाज की आस्था को बेचा है. इसके साथ गुर्जरों के साथ विश्वातघात किया है. इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने कहा कि गुर्जर समाज 14 सालों से आंदोलन कर रहा है. इसमें 72 लोग शहीद हो गए उसके बाद भी गुर्जर समाज आज पटरी पर है. बिना उंगली कटे,बिना नाखून कटे जब आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण मिल सकता है. तो 72 लोगो की जान जाने के बाद गुर्जरों को न्याय क्यो नहीं मिला.

ये तो अभी ट्रेलर है

गुर्जर समाज के लोगो ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार ने गुर्जरों के आरक्षण की  मांग को नही माना तो समाज के लोगो सड़को पर आ जाएंगे. समाज किसी भी कीमत पर चुप नही बैठने वाले.ये तो ट्रेलर है यदि कल तक रिजल्ट नही आया तो पूरी फ़िल्म दिखा देंगे इसके लिए बलिदान भी देना पड़े तो समाज के लोग तैयार है कोटा भी उग्र आंदोलन होगा.