जयपुर: प्रत्याशियों ने छुपाया चुनावी खर्चें का ब्यौरा, निर्वाचन विभाग ने थमाया नोटिस

जयपुर शहर सीट से भाजपा प्रत्याशी रामचरण बोहरा और कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल की ओर से पेश किए गए खर्चे में विभाग ने झूठ को पकड़ लिया.

जयपुर: प्रत्याशियों ने छुपाया चुनावी खर्चें का ब्यौरा, निर्वाचन विभाग ने थमाया नोटिस
फिलहाल प्रत्याशियों की ओर से पेश किए गए खर्चे की जांच हो रही है

जयपुर: निर्वाचन विभाग को दिए जाने वाले चुनावी खर्चे के ब्यौरे में प्रत्याशी सही जानकारी नहीं दे रहे हैं. हाल ही जयपुर शहर सीट से भाजपा प्रत्याशी रामचरण बोहरा और कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल की ओर से पेश किए गए खर्चे में विभाग ने झूठ को पकड़ लिया. भाजपा प्रत्याशी ने रामचरण बोहरा और कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल ने अपने अधिकतर खर्चे में जानकारियां छुपाई है. 

खबर के मुताबिक रामचरण बोहरा ने खाने में 40 हजार रुपए का खर्चा लिखा है. जबकि निर्वाचन विभाग ने एक लाख 25 हजार रुपए का आंकलन लगाया है. निर्वाचन विभाग ने रामचरण बोहरा के प्रचार-प्रसार में करीब ढाई हजार लोगों के लगे होने के हिसाब से खर्चें का आंकलन लगाया है. लेकिन बोहरा ने अपने प्रचार में 800 लोगों के लगे होने के हिसाब से खर्चा बताया है. वहीं ज्योति ने अपने प्रधान कार्यालय में लगे टैंट के खर्चे की जानकारी छुपाई है.

निर्वाचन विभाग ने खंडेलवाल के खाते में 1 लाख 68 हजार रुपए किराया शामिल किया है. हाल ही जयपुर शहर सीट से भाजपा प्रत्याशी रामचरण बोहरा और कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल की ओर से पेश किए गए खर्चे में विभाग ने झूठ को पकड़ लिया. इतना ही नहीं दोनों प्रत्याशियों के खर्चे में अंतर निकाल दिया. विभाग ने रामचरण बोहरा के खाते में 5 लाख 95 हजार 658 रुपए को तो ज्योति खंडेलवाल के खाते में 1 लाख 68 हजार रुपए का अंतर निकाल नोटिस थमाया है. बता दें कि जयपुर शहर से भाजपा प्रत्याशी रामचरण बोहरा ने शुक्रवार को 7 लाख 18 हजार 17 रुपए के खर्चे का ब्यौरा दिया था. वहीं ज्योति खंडेलवाल ने 6 लाख एक हजार 979 रुपए का ब्यौरा दिया.

उधर जयपुर ग्रामीण सीट पर चुनावी खर्चे में भाजपा प्रत्याशी राज्यवर्धन राठौड़ से आगे कांग्रेस प्रत्याशी कृष्णा पूनिया आगे निकल गई है. कृष्णा पूनिया जहां रोज कार्यकर्ताओं के लिए सेव, केला, हलवा और पकौड़ी खिला रही है. वहीं राज्यवर्धन सिंह राठौड़ सिर्फ चाय-पानी से काम चला रहे हैं. कृष्णा पूनिया ने अभी तक 12,05740 रुपए खर्च किया है, वहीं राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने 6,34,030 रुपए खर्चा किया है. कृष्णा ने कार्यकर्ताओं को 1 लाख 38 हजार रुपए  के सेव, केले खिलाए हैं. वहीं एक लाख 20 हजार की चाय पिलाई है. इधर राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने सर्वाधिक  3,38,200 रुपए वाहन में खर्च किए हैं. 

बहरहाल, जिला निर्वाचन विभाग की ओर से प्रत्याशियों की ओर से किए जा रहे चुनावी खर्च की वीडियो रिकॉर्डिंग की जा रही है. जिस पर निर्वाचन विभाग के आय-व्यय टीम नजर बनाए हुए हैं. फिलहाल प्रत्याशियों की ओर से पेश किए गए खर्चे की जांच हो रही है, उसके बाद अंतर निकाल कर आंकड़े सामने जाएंगे.