रीट के बाद पटवारी में भी नकल गुरु, परीक्षा हो रही है लेकिन फेल हो रहा है प्रशासन
X

रीट के बाद पटवारी में भी नकल गुरु, परीक्षा हो रही है लेकिन फेल हो रहा है प्रशासन

रीट (REET Exam) के बाद अब पटवारी परीक्षा (Patwari Exam 2021) में नकल गुरुओं को रोकने में प्रशासन फेल साबित हो रहा है. 

रीट के बाद पटवारी में भी नकल गुरु, परीक्षा हो रही है लेकिन फेल हो रहा है प्रशासन

Jaipur: रीट (REET Exam) के बाद अब पटवारी परीक्षा (Patwari Exam 2021) में नकल गुरुओं को रोकने में प्रशासन फेल साबित हो रहा है. कल प्रदेशभर में नकल गिरोह से जुड़े 31 लोगों की गिरफ्तारियां हुई. जयपुर में डमी अभ्यर्थी बना एलडीसी सुनील गोदारा सोडाला में परीक्षा देते हुए पकड़ा गया. सुनील आज पहले जोधपुर और फिर जालौर में डमी अभ्यर्थी बनकर परीक्षा देने वाला था यानि पुलिस कल सुनील को गिरफ्तार नहीं करती तो वो आज भी डमी अभ्यर्थी बनकर परीक्षा में बैठता.

सबसे हैरानी की बात तो ये है कि सुनील रीट की परीक्षा में डमी अभ्यर्थी बनकर परीक्षा दे चुका है. इस गिरोह के मुख्य सरगना पीटीआई रामलाल अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. नकल रोकने में फेल प्रशासन पर जी मीडिया ने अभ्यर्थियों से सवाल किए तो उन्होंने कहा कि यदि सरकार जल्द अध्यादेश लाए तो जरूर इस पर कार्रवाई हो सकती है लेकिन कई अभ्यर्थियों का कहना था कि इस पर लगात कभी नहीं लग सकती.

इंटरनेट ऑफ, फिर भी नकल ऑन
नकल रोकने के लिए सिर्फ एक ही जुगाड़ समझ आया इंटरनेट पर पाबंदी. इसकी वजह से आम जनता को परेशानी झेलनी पड़ रही है. सभी इंटरनेट सेवाएं ठप हो गईं. यहां तक कि सरकार ने कुछ इलाकों में वाई-फाई भी बंद करवा दिए. ऐसे में काम भी प्रभावित हुआ, लेकिन इसके बावजूद नकल गुरुओं पर लगाम नहीं लग पा रही है. आज भी शाम 6 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद रहेगी.

यह भी पढ़ें- LDC Recruitment-1986 में नया अपडेट, राजस्थान हाईकोर्ट लिया यह फैसला

क्या इंटरनेट बंद करना ही एकमात्र उपाय
रीट हो या पटवारी आधी रात को नेट बंदी की घोषणा की गई थी, इस कारण लोग परेशान होते रहे. जैसे इंटरनेट बंद करना ही नकल रोकने का आखिरी रास्ता है. अचानक होने वाली इस नेट बंदी से लोगों की आफत तो बढ़ी ही, 15 लाख से ज्यादा पटवारी अभ्यर्थियों को भी परेशानी का सामने करना पड़ रहा है. एक दिन पहले सेंटर की पहचान करनी पड़ती है.

जयपुर समेत इन जिलों में बंद है नेट
पटवारी भर्ती परीक्षा में इंटरनेट बंद को लेकर निर्णय जिला स्तर पर लिया जा रहा है. इसके तहत पुलिस की अनुशंसा पर राजधानी जयपुर, जोधपुर, भरतपुर, दौसा, बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, अजमेर, नागौर, सिरोही और सवाईमधोपुर में पटवारी भर्ती परीक्षा के चलते दोनो दिन सुबह 6 से शाम 6 बजे तक एक बार फिर नेटबंदी की गई. जहां इंटरनेट बंद नहीं रहा, वहां भी लोग इंटरनेट बंद की अफवाह से परेशान होते रहे.

Trending news