close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जोधपुर: ACB टीम की बड़ी कार्रवाई, रिश्वत लेते पकड़े गए आयुर्वेद विभाग के अधिकारी

रिश्वत राशि लेने के बाद इंदीवर भारद्वाज ने राशि हेल्पर इंद्र कुमार को दी थी. यह रिश्वस्त राशि आरोपियों ने लोन फार्मेसी लाइसेन्स नवीनीकरण के लिए ली थी.

जोधपुर: ACB टीम की बड़ी कार्रवाई, रिश्वत लेते पकड़े गए आयुर्वेद विभाग के अधिकारी
आयुर्वेद विभाग के इंदीवर भारद्वाज को एसीबी ने रंगे हाथ गिरफ्तार किया.

जोधपुर: एसीबी टीम ने जोधपुर में बड़ी कार्रवाई करते हुए आयुर्वेद विभाग के इंस्पेक्टर इंदीवर भारद्वाज को 25 हजार की रिश्वस्त लेते गिरफ्तार किया. साथ ही सहायक निदेशक आयुर्वेद विभाग जयपुर सुरेश शर्मा, विभाग के हेल्पर इंद्र कुमार को भी एसीबी ने गिरफ्तार किया है. रिश्वत राशि लेने के बाद इंदीवर भारद्वाज ने राशि हेल्पर इंद्र कुमार को दी थी. यह रिश्वस्त राशि आरोपियों ने लोन फार्मेसी लाइसेन्स नवीनीकरण के लिए ली थी.

एसीबी जोधपुर में परिवादी श्रवण डागा ने शिकायत दर्ज करवाई की आयुर्वेद विभाग जयपुर में तैनात सहायक निदेशक सुरेश शर्मा, आयुर्वेद विभाग में इंस्पेक्टर इंदीवर भारद्वाज रिश्वत राशि की मांग कर रहे हैं. इस पर एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरेंद्र सिंह चौधरी की टीम ने मांग का सत्यापन करवाया. जहां आरोपी इंस्पेक्टर इंदीवर के 51 हजार, सहायक निदेशक सुरेश शर्मा के एक लाख 51 हजार रुपए रिश्वत मांग की बात सामने आई. बुद्धवार को यह राशि देने का तय हुआ.

वहीं दिन और समय तय होने इसके लिए आरोपी इंस्पेक्टर इंदीवर भारद्वाज ने राशि के साथ परिवादी को अपने डीपीएस बाईपास स्थित आशापूर्णा नगर बंगले में बुलाया. जहां एसीबी ने परिवादी से 25 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए इन्स्पेक्टर आयुर्वेद विभाग इंदीवर भारद्वाज को एसीबी ने रंगे हाथ गिरफ्तार किया. वही रिश्वत की राशि छुपाने के आरोप में विभाग के हेल्पर इंद्र कुमार और सहायक निदेशक आयुर्वेद विभाग जयपुर सुरेश शर्मा को भी गिरफ्तार किया. 

हालांकि शर्मा ने यह रिश्वत राशि यहां नहीं लेने और उनके जयपुर आवास पर पहुचाने की बात कही. फिलहाल एसीबी, इंसेक्टर इंदीवर भारद्वाज के जोधपुर आवास पर कार्रवाई करने में जुटी है. वहीं सहायक निदेशक जयपुर सुरेश शर्मा के जयपुर के हातोज स्थित आवास पर भी एसीबी का सर्च जारी है.