Bharat Jodo Yatra : राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा, जानिए राहुल गांधी के साथ कौन चलेगा, किसे मिलेगी एंट्री, क्या रहेगा रूट
topStories1rajasthan1452801

Bharat Jodo Yatra : राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा, जानिए राहुल गांधी के साथ कौन चलेगा, किसे मिलेगी एंट्री, क्या रहेगा रूट

Bharat Jodo Yatra in Rajasthan : राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 3 दिसंबर के लगभग राजस्थान में प्रवेश करेगी. इसमें शामिल होने के लिए लोगों की 3 कैटेगरी बनाई है. झालावाड़, कोटा, बूंदी, टोंक, दौसा, सवाई माधोपुर समेत 7 जिलों की 18 विधानसभा क्षेत्रों से यात्रा गुजरेगी.

Bharat Jodo Yatra : राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा, जानिए राहुल गांधी के साथ कौन चलेगा, किसे मिलेगी एंट्री, क्या रहेगा रूट

Bharat Jodo Yatra in Rajasthan : राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को सफल बनाने के लिए प्रदेश कांग्रेस से लेकर सरकार तक पूरी ताकत लगा रहे है. अब ऐसे लोगों की लिस्टें बननी शुरु भी हो गई है जो राहुल गांधी के साथ राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे. राहुल गांधी के साथ चलने वाले लोगों की अलग अलग कैटेगरी बनाई गई है. जिला स्तर के पदाधिकारियों को भी जिम्मेदारी दी जाएगी. राहुल गांधी के साथ कौन व्यक्ति कितनी दूरी तक चलेगा. कहां से कहां तक कौन चलेगा. इसकी भी पूरी डिटेल प्रदेश स्तर के कंट्रोल रूम में रहेगी और वहीं से पूरी यात्रा कंट्रोल होगी.

तीन कैटेगरी में राहुल गांधी के साथ चलेंगे लोग

राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा जितनी चलेगी. उसमें राहुल गांधी के साथ चलने वाले लोगों को तीन कैटेगरी में बांटा गया है. पहली कैटेगरी जिला यात्री की होगी. जो लोग अपने जिले में भारत जोड़ो यात्रा का हिस्सा बनेंगे वो जिला यात्री कहलाएंगे. दूसरी कैटेगरी प्रदेश यात्री की होगी. इसमें वो लोग होंगे जो राजस्थान में एंट्री के साथ ही भारत जोड़ो यात्रा का हिस्सा बनेंगे और हरियाणा की सीमा तक पूरे वक्त यात्रा के साथ रहेंगे. तीसरी कैटेगरी में अतिथि यात्री होंगे. ये वो कांग्रेस कार्यकर्ता या नेता होंगे जो भारत जोड़ो यात्रा में कुछ किलोमीटर तक का हिस्सा बनेंगे. कोई 10 किलोमीटर तो कोई 20, 30 या 50 किमी तक यात्रा के साथ रहेंगे.

यात्रा के लिए कैसे होगा चयन

राजस्थान का कोई भी कांग्रेस कार्यकर्ता या नेता इस यात्रा का हिस्सा बन सकता है. इसके लिए उसे भारत जोड़ो यात्रा कंट्रोल रूम में कार्यकर्ता को अपना नाम, मोबाइल नंबर और आधार कार्ड देना होगा. साथ ही ये भी जानकारी देनी होगी वो यात्रा में कहां से कहां तक शामिल होना चाहता है. राहुल गांधी की यात्रा के राजस्थान में एंट्री से पहले ही इसकी पूरी लिस्ट तैयार की जाएगी. फिर एक एक दिन और एक एक किलोमीटर के तय कार्यक्रम के हिसाब से लोगों को इसमें शामिल किया जाएगा

इतने लोगों को कैसे मैनेज करेंगे

भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान के जिन जिलों और विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगी. उसी हिसाब से हर विधानसभा क्षेत्र में एक कॉर्डिनेटर बनाया गया है. उस विधानसभा क्षेत्र में यात्रा के रूट से लेकर कहां से कहां तक कौनसा व्यक्ति इसमें शामिल होगा. भोजन और चाय पानी की व्यवस्था कहां और कैसे होगी. इन सब चीजों को कॉर्डिनेट करने की जिम्मेदारी विधानसभा कॉर्डिनेटर की होगी.

ये भी पढ़ें- चूरू के रण में बीकानेर के दिग्गजों की परीक्षा, अर्जुनराम मेघवाल और बीडी कल्ला में कौन होगा पास ?

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा की राजस्थान में प्रवेश के समय इसके भव्य स्वागत की तैयारी की जा रही है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा 26 नवंबर को कोटा का दौरा कर तैयारियों का जायजा लेंगे. इसके अलावा कांग्रेस के सीनियर नेताओं को ये भी जिम्मेदारी दी जाएगी कि वो यात्रा से आगे के रूट और वहां की व्यवस्थाओं का निरीक्षण करें. ताकि कोई कमी न रह सके. राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव है. कांग्रेस पार्टी इस यात्रा के जरिए लोगों को अपने साथ जोड़ने में जुटी है. ये भी कोशिश चल रही है कि यात्रा के रूट में कुछ बदलाव कराया जाए ताकि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को राजधानी जयपुर से जोड़ा जा सके. 

ये भी पढ़ें- हरीश चौधरी, हनुमान बेनीवाल और दिव्या मदेरणा, कौन बनेगा मारवाड़ में जाटों का किंग ?

7 जिले 18 विधानसभा क्षेत्र होंगे कवर

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान के 7 जिलों से होकर गुजरेगी. जिससे 18 विधानसभा क्षेत्रों को सीधे तौर पर टच किया जाएगा. अनुमान के मुताबिक 3 नवंबर के लगभग ये यात्रा झालावाड़ की सीमा से राजस्थान में प्रवेश करेगी. जिसके बाद झालावाड़ जिले की झालरापाटन, कोटा की लाडपुरा, कोटा उत्तर, कोटा दक्षिण और रामगंज मंडी विधानसक्षा क्षेत्रों से यात्रा गुजरेगी. कोटा के बाद बूंदी की केशोरायपाटन क्षेत्र से होते हुए राहुल गांधी की ये यात्रा टोंक जिले की देवली और उनियारा से गुजरते हुए सवाई माधोपुर जिले में प्रवेश करेगी. सवाई माधोपुर की बामनवास और लालसोट के बाद दौसा जिले में की दौसा, लालसोट, सिकराय, बांदीकुई विधानसभा क्षेत्रों को कवर करते हुए भारत जोड़ो यात्रा अलवर जिले में प्रवेश करेगी. अलवर की 4 विधानसभाओं अलवर ग्रामीण, रामगढ़, राजगढ़, लक्ष्मणगढ़ से होते हुए हरियाणा की सीमा में प्रवेश करेगी. 

Trending news