Jhalawar: रॉयल्टी ठेकेदार पर अवैध वसूली का आरोप, माइंस एसोसिएशन ने ठप्प किया काम

मामले को लेकर कोटा स्टोन व्यापारियों ने प्रभारी मंत्री टीकाराम जूली (Tikaram Jully) को ज्ञापन देकर रॉयल्टी ठेकेदार की शिकायत की और अवैध वसूली को बंद करवाने की मांग की है.

Jhalawar: रॉयल्टी ठेकेदार पर अवैध वसूली का आरोप, माइंस एसोसिएशन ने ठप्प किया काम
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jhalawar: झालावाड़ लाइमस्टोन माइंस एसोसिएशन (Jhalawar Limestone Mines Association) ने रामगंज मंडी क्षेत्र (Ramganj Mandi Area) के रॉयल्टी ठेकेदार पर अवैध वसूली (Illegal recovery) का आरोप लगाते हुए विरोध जताया है. 

यह भी पढे़ं- बेटी की शादी में पिता को भरना पड़ा एक लाख का जुर्माना, सदमे से हुई मौत

 

मामले को लेकर कोटा स्टोन व्यापारियों ने प्रभारी मंत्री टीकाराम जूली (Tikaram Jully) को ज्ञापन देकर रॉयल्टी ठेकेदार की शिकायत की और अवैध वसूली को बंद करवाने की मांग की है.

यह भी पढे़ं- Jhalawar : घर में शराब पी रहे युवक को पुलिसकर्मियों ने पीटा, गुप्तांगों में आई गंभीर चोट

लाइमस्टोन एवं माइंस एसोसिएशन अध्यक्ष सुरेश गुर्जर (Suresh Gurjar) ने बताया कि झालावाड़ जिले में हजारों लोगों को कोटा स्टोन उद्योग से रोजगार मिला है. कोटा स्टोन व्यापारियों द्वारा झालावाड़ के रॉयल्टी ठेकेदार को शुल्क राशि दी जाती है, लेकिन उसके बावजूद कोटा स्टोन के रामगंजमंडी क्षेत्र में जा रहे वाहनों से रामगंजमंडी के रॉयल्टी ठेकेदार द्वारा दोबारा अवैध वसूली की जा रही, जबकि एक बार रॉयल्टी देने के बाद दोबारा रॉयल्टी नहीं वसूली जा सकती. 

प्रति गाड़ी पर 1000 से 1500 रुपये तक की वसूली
रामगंजमंडी के रॉयल्टी ठेकेदार द्वारा प्रति गाड़ी पर 1000 से 1500 रुपये तक वसूले जा रहे. ऐसे में झालावाड़ जिले के कोटा स्टोन व्यापारियों ने  नाराजगी जताते हुए कार्य ठप्प कर दिए हैं, जिसके चलते जिले के हजारों लोगों के आगे रोजगार का संकट खड़ा हो गया है. लाइमस्टोन माइंस एसोसिएशन झालावाड़ ने रामगंजमंडी के रॉयल्टी ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

Reporter- Mahesh Parihar