जयपुर: छाया पूजा का सपना 'पिंक पेडल्स', साइकिल रेंटल फर्म से सुधार दी लोगों की सेहत

महामारी के समय के दौरान, पिंक पेडल्स कुछ नई और आकर्षक किराये की योजनाएं लेकर आया ताकि लोगो को स्वास्थ्य एवं फिट रखा जाए.

जयपुर: छाया पूजा का सपना 'पिंक पेडल्स', साइकिल रेंटल फर्म से सुधार दी लोगों की सेहत
वर्ष 2017 में देखा सपना अब साकार हो रहा है.

जयपुर: "वाह क्या आइडिया है" में आज बात है ऐसे उद्यमी की, जो आपकी और हमारी सेहत को दुरुस्त कर रही है. जी हां, हम बात कर रहे है पिंक पेडल्स जयपुर की फाउंडर पूजा विजय की.

वर्ष 2017 में, पूजा ने जयपुर को एक साइकिल के अनुकूल शहर बनाने की दृष्टि से पिंक पेडल की नींव रखी. अब पूजा का सपना हकीकत बन गया, पिंक पेडल ने पांच लाख किलोमीटर साइकिल का सफर तय किया. पूजा के प्रयासों ने जयपुराइट्स को साइकिल चलाने के लिए प्रेरित किय. पिंक पैडल एक छोटे से साइकिल रेंटल फर्म से लेकर साइकलिंग सेवाओं जैसे रेंटल, पब्लिक साइकिल शेयरिंग, साइकलिंग इवेंट्स, टूर और साइक्लोथॉन के लिए एक वन स्टॉप सॉल्यूशन में विकसित हुए हैं.

मुख्य बिंदु

  • पूजा विजय पिंक पेडल्स जयपुर की फाउंडर हैं
  • वर्ष 2017 में देखा सपना अब साकार हो रहा है
  • अब तक पांच लाख किलोमीटर साइकिल चलवाने का बना रिकॉर्ड
  • रेंटल, पब्लिक साइकिल शेयरिंग, साइकलिंग इवेंट्स,
  • साइकिल टूर और साइक्लोथॉन का कर रही आयोजन
  • औद्योगिक क्षेत्र सेज में उपलब्ध करवा रही रेंट पर साइकिल
  • क्लीन, ग्रीन और हेल्दी आदतों को बढ़ावा देने का विजन
  • 50 से अधिक नेशनल और मल्टीनेशनल कंपनियां है क्लाइंट

जयपुर साइकिल मेयर और पिंक पेडल्स की संस्थापक पूजा विजय का कहना है कि विश्व स्वास्थ संगठन की रिपोर्ट के अनुसार प्रतिदिन 20 मिनट साइकिलिंग करना स्वास्थ्य को बेहतर रखता है. मैं जयपुर से हूं ऐसे में अपनी सिटी के गुलाबी शहर के लिए कुछ करना चाहती थी. ऐसे में शहर में साइकिलिंग को प्रमोट करने और लोगों के स्वास्थ कोबेहतर रखने के मकसद से पिंक पैडल की शुरूआत की. इसका विजन ही क्लीन, ग्रीन और हेल्दी आदतों को बढ़ावा है. कंपनी ने अपनी टीम के सदस्यों की कड़ी मेहनत, लगन और समर्पण के माध्यम से यह सफलता हासिल की है.

महामारी के समय के दौरान, पिंक पेडल्स कुछ नई और आकर्षक किराये की योजनाएं लेकर आया ताकि लोगो को स्वास्थ्य एवं फिट रखा जाए और सोशल डिस्टन्सिंग का पालन भी हो जाए, इन योजनाओं को लोगों का भरपूर समर्थन मिला. हम रेंटल, पब्लिक साइकिल शेयरिंग, साइकलिंग इवेंट्स, साइकिल टूर और साइक्लोथॉन का आयोजन जयपुर सहित अन्य जगहों पर प्रमुखता से करते रहे हैं. यह हमारी टीम के अथक प्रयासों का नतीजा ही है कि अब तक पांच लाख किलोमीटर साइकिल चलवाने का रिकॉर्ड हम बना चुके हैं. हम भारत सरकार के मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स के स्मार्ट सिटी मिशन और स्मार्ट सिटी जयपुर के साथ काम करने की कोशिश कर रहे हैं. जयपुर के जिन सड़कों और इलाकों में साइकिल लेन होनी चाहिए वहां इसे बनवाने के सरकार और स्थानीय निकायों के साथ मिलकर प्रयास होंगे. मकसद यही है लोगों का स्वास्थ्य सुधरे.