close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: BJP विधायक ने 'फर्जी EVM मशीन' के वायरल मैसेज को बताया षडयंत्र

गुरुवार एक मकान में ईवीएम मशीनों के मिलने की बात को लेकर हुए हंगामे पर पारख ने बताया की यह विरोधियों का षडयंत्र था.

राजस्थान: BJP विधायक ने 'फर्जी EVM मशीन' के वायरल मैसेज को बताया षडयंत्र
प्रदेश के 4 करोड़ 76 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.

सुभाष रोहिसवाल/पाली: राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए आज (शुक्रवार) को मतदान की प्रक्रिया सुबह आठ बजे शुरू हो गई और यह शाम पांच बजे तक जारी रहेगी. हालांकि प्रदेश में मतदान प्रकिया रफ्तार धीमी रही लेकिन दिन चढ़ते ही विधानसभा चुनाव में मतदान को लेकर लोगो का उत्साह नजर आने लगा. इसी क्रम में पाली विधायक ज्ञानचंद पारख भी अपने मत का प्रयोग करने मतदान करने बूथ पर पहुंचे.

बता दें कि भाजपा प्रत्याशी ज्ञानचंद पारख को पार्टी ने पांचवी बार पार्टी ने टिकट दिया है. वहीं गुरुवार एक मकान में ईवीएम मशीनों के मिलने की बात को लेकर हुए हंगामे पर पारख ने बताया की यह विरोधियों का षडयंत्र था. माहौल को खराब करने की नियत से उन्होंने ऐसा किया. जबकी प्रशाशन ने पूरी जांच की उसमे किसी भी प्रकार की कोई छेड़छाड़ नहीं होने की बात सामने आई. फिलहाल जिस युवक ने सोसल मीडिया पर मैसेज वीडिओ वायरल किया था उसके खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है. 

बता दें की कल सेक्टर मजिस्ट्रेट में महिला अधिकारी रिजर्व मशीनों को लेकर अपनी टीम के साथ बांगड़ कॉलेज से सुमेरपुर के लिए निकली थी. जिसके बाद वह बांगड़ कॉलेज के पास स्थित अपने निवास पर फ्रेश होने व खाना खाने के लिए टीम सहित घर में चली गयी. हालांकि कुछ पुलिस वाले अन्य गाड़ी में रखे मशीनो के साथ बाहर ही थे लेकिन जिस गाड़ी में महिला अधिकारी थी उस गाड़ी में कोई नहीं था.  

खबर के मुताबिक कुछ मशीन पुलिस जीप में थी तो कुछ कर की डिक्की में वहीं एक मशीन महिला अधिकारी के कार के अंदर रखी हुई थी. जब महिला अधिकारी घर से आकर कार में बैठकर चलीं तभी पीछा कर रहे युवक ने वीडियो बनाया और फेसबुक पर लाइव वीडिओ वायरल कर दिया. तभी आदर्श नगर में एक मकान में फर्जी ईवीएम मशीने मिली है, मैसेज वायरल होते ही एसडीएम अजय चारण सहित निर्वाचन के अधिकारी व ट्रांसपोर्ट नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची. 

जिसके बाद अधिकारियो ने मशीन की जांच की. जिसके बाद इवीएम मशीन के साथ किसी प्रकार की कोई छेड़छाड़ नहीं होने की बात सामने आई. वहीं चुनाव आयोग ने महिला अधिकारी की गलती की वह मशीन को गाड़ी में छोड़कर घर चली गयी को लेकर कलेक्टर ने महिला अधिकारी को कारण बताओ नोटिस दिया है. वहीं आयोग के अधिकारी नें कहा कि फर्जी ईवीएम मशीन जैसी कोई बात नहीं थी.   

बता दें कि राज्य की 200 विधानसभा सीटों में से 199 पर मतदान हो रहा है. बसपा के उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह के निधन की वजह से अलवर जिले के रामगढ़ निर्वाचन क्षेत्र में मतदान स्थगित कर दिया गया है. मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच में है. लगभग 4.74 करोड़ लोग 2,274 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. इन 2,274 उम्मीदवारों में से 189 महिलाएं हैं. वहीं राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए हो रहे मतदान में 51 हजार 687 मतदान केंद्रों पर प्रदेश के 4 करोड़ 76 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.