राजस्थान: मतदान के लिए लोगों को जागरूक करेगा निर्वाचन विभाग, मनाएगा सतरंगी सप्ताह

सतरंगी सप्ताह के आयोजन में विभिन्न गैर राजनीतिक सामाजिक संस्थानों, नागरिक संगठनों सहित अन्य संगठनों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी.

राजस्थान: मतदान के लिए लोगों को जागरूक करेगा निर्वाचन विभाग, मनाएगा सतरंगी सप्ताह
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर: लोकसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए निर्वाचन विभाग सतरंगी सप्ताह मनाएगा. जिसमें स्वीप गतिविधियों के जरिए मतदाताओं को जागरूक किया जाएगा. पहले चरण में 20 जिलों में होने वाले मतदान के मद्देनजर 20 अप्रेल से 26 अप्रेल तक सतरंगी सप्ताह कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. यह आयोजन प्रत्येक पोलिंग स्टेशन, विधानसभा क्षेत्र, जिला एवं राज्य स्तर पर आयोजित होगा.

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी जोगाराम ने कहा कि सतरंगी सप्ताह के दौरान विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जाएंगी. इन गतिविधियों को ग्रामीण, शहरी, महिला, पुरुष, दिव्यांग, युवा एवं मतदान के प्रति नैतिकता की जागरुकता को लेकर संयोजित किया गया है ताकि इसकी ब्रांडिंग की जा सके और कार्यक्रम को प्रभावी बनाते हुए लोकतंत्र के उत्सव में मतदाताओं को जागरुक किया जा सके. 

सतरंगी सप्ताह में यह होंगे कार्यक्रम
20 अप्रेल को पहले दिन शहरी मतदान केंद्रों पर दीपदान के साथ सप्ताह का शुभारंभ किया जाएगा. इसके तहत “हर शहर में जन-जन उठेंगे, मतदान की कीमत समझेंगे” गीत के साथ तथा “हम भी वोट करेंगे, हम भी गर्व करेंगे” स्लोगन से मतदान के लिए शहरी मतदाताओं को जागरुक किया जाएगा.

21 अप्रेल को बैंड वादन किया जाएगा. जिसमें “अब कोई ना आकर भरमाऐ मन में डर ना घर कर पाए” गीत के साथ तथा “लालच पर होगी चोट, सोच समझ कर करेंगे वोट” स्लोगन के साथ जागरुक किया जाएगा. 22 अप्रेल को वोट बारात निकाली जाएगी. जिसमें “क्या गांव डगर सब संग आए, कोई वोट ना बाकि रह जाए” गीत के साथ तथा “हम भी नाचेंगे, गाएंगे, वोट डालकर आएंगे” स्लोगन से ग्रामीण नागरिकों को मतदान के प्रति संदेश दिया जाएगा.

23 अप्रेल को महिला मार्च का आयोजन किया जाएगा. जिसमें “अब आओ घूंघट से निकलें, घर ढाणी पनघट से निकलें” गीत के साथ तथा “वोट करूंगी, तभी तो बढूंगी” स्लोगन से महिलाओं को मतदान के प्रति जागरुक किया जाएगा. 24 अप्रेल को मानव श्रृंखला बनाई जाएगी. जिसमें “हर पीढ़ी के मतदाता, जन-तंत्र के भाग्य विधाता” गीत के साथ “जिम्मेदारी का एहसास है, वोट डालने को तैयार है” स्लोगन से पुरुष मतदाताओं को मतदान के लिए जागरुक किया जाएगा.

25 अप्रेल को ट्राई साइकिल रैली का आयोजन होगा. जिसमें “हम लोकतंत्र की जान बने, जन जाग्रति का आवाहन बने” गीत के साथ “अधिकार का प्रयोग करेंगे, वोट करेंगे, वोट करेंगे” स्लोगन का प्रयोग कर दिव्यांगजन, आमजन में मतदान के प्रति संदेश देंगे.

26 अप्रेल को युवाओं द्वारा वोट मैराथन आयोजित की जाएगी. जिसमें “ऊर्जा हम है, हम सयंम है, हैं जोश है हिम्मत, दम खम है” गीत के साथ “अंगूली पर निशान, राष्ट्र के नाम” स्लोगन से युवा आमजन को मतदान के प्रति जागरुक करेंगे.

सतरंगी सप्ताह के आयोजन में विभिन्न गैर राजनीतिक सामाजिक संस्थानों, नागरिक संगठनों सहित अन्य संगठनों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी. प्रत्येक दिवस को सरगम के साथ सुरों के अलावा इंद्रधनुष के सात रंगों के साथ भी जोड़ा गया है, जिसके अंतर्गत प्रथम दिवस में वायलेट कलर, दूसरे दिन इंडिगो, तीसरे दिन बल्यू और इसी तरह इंद्रधनुष के अन्य रंगों का समावेश कर मतदाता जागरूकता की गतिविधियों को प्रमुखता से शामिल किया जाएगा.