राजस्थान: मॉब लिंचिंग के खिलाफ सड़कों पर उतरा मुस्लिम समाज, प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन

अभी तक इस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है. वर्ष 2016 से 2019 तक झारखण्ड में 18 लोगों की भीड़ द्वारा हिंसा में हत्या की जा चुकी है.

राजस्थान: मॉब लिंचिंग के खिलाफ सड़कों पर उतरा मुस्लिम समाज, प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन
फाइल फोटो

प्रतापगढ़: राजस्थान के प्रतापगढ़ में अंजुमन ए फुरकानिया और मुस्लिम समाज की जिला कमेटी ने राष्ट्रपति के नाम एडीएम को ज्ञापन देकर पिछले दिनों झारखंड में मुस्लिम युवक तबरेज अंसारी की भीड़ द्वारा हत्या की निंदा की. 

ज्ञापन में कहा गया कि इस घटना को कुछ कट्टरपंथी असामाजिक तत्वों की भीड़ द्वारा अंजाम दिया गया है. यह पहली घटना नहीं है, पिछले कुछ वर्षों से मुस्लिम समुदाय के खिलाफ ऐसी घटनाएं हो रही हैं जो चिंताजनक और निंदनीय है. माननीय सुप्रीम कोर्ट के राज्य सरकारों को दिए आदेश के बावजूद सरकारों द्वारा भीड़ की हिंसा पर खानापूर्ति की जा रही है. 

अभी तक इस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है. वर्ष 2016 से 2019 तक झारखण्ड में 18 लोगों की भीड़ द्वारा हिंसा में हत्या की जा चुकी है, लेकिन झारखंड की राज्य सरकार द्वारा अभी तक इस तरह का कृत्य करने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ कोई ठोस कदम नही उठाया गया है. ज्ञापन में देश में भीड़ द्वारा हिंसा में जिस तरह मुस्लिम समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है, उस संदर्भ मे केन्द्र और राज्य सरकार दोनों से जवाब तलब कर इस तरह की घटनाओं पर लगाम कसने और ठोस कार्रवाई की मांग की गई है.

उपखंड के धरियावद में भी मुस्लिम समाज, भील प्रदेश मुक्ति मोर्चा, किसान सभा ने राष्ट्रपति और राज्य के गृह मंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन दिया कि झारखंड में जिस तरह से मुस्लिम समाज के एक युवक तबरेज अंसारी की हत्या की गई बहुत ही निंदनीय है. ज्ञापन में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही मांग की गई.