रॉबर्ट वाड्रा बीकानेर लैंड डील: पुलिस रिपोर्ट में जबरदस्त खुलासे

रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े जमीन के मामले में आरोपी जयप्रकाश बागड़ावा का पुलिस जांच में विवादित संपत्ति पर नया खुलासा सामने आया है.

रॉबर्ट वाड्रा बीकानेर लैंड डील: पुलिस रिपोर्ट में जबरदस्त खुलासे
रॉबर्ट वाड्रा बीकानेर लैंड डील

बीकानेर: रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) से जुड़े जमीन के मामले में आरोपी जयप्रकाश बागड़ावा का पुलिस जांच में विवादित संपत्ति पर नया खुलासा सामने आया है. पुलिस ने बागड़वा और तत्कालीन नायब तहसीलदार मित्तल फर्जीवाड़ा में दोषी माना है.

रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) से जुड़े जमीन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय जयपुर(Enforcement Directorate Jaipur) की ओर से आरोपी जयप्रकाश बागड़वा की अरजनसर में सीज की गई संपत्ति को पुलिस ने किसी और का माना है. पुलिस ने अपनी जांच में नया खुलासा करते हुए माना कि यह सम्पति किसी ओर की है. इस संपत्ति पर सरपंच मघाराम मलोठिया ने दावा करते हुए न्यायालय के समक्ष वाड्रा मामले के आरोपी जयप्रकाश सहित कई जनों पर फर्जी कागजात से तहसील में पंजयीन कराने के आरोप लगाए थे.

न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने जांच में आरोपी जयप्रकश के साथ तत्कालीन नायब तहसीलदार, तत्कालीन सरपंच आदि को फर्जीवाड़ा के दोषी माना है. जांच अधिकारी ईश्वर सिंह ने जांच रिपोर्ट में कहा कि मामले की बारीकी से जांच कर सभी तथ्य जुटाए गए हैं. इसमें जयप्रकाश बागड़वा, रणजीतसिंह, तत्कालीन रामबाग सरपंच रामेश्वर, तत्कालीन नायब तहसीलदार जयदीप मित्तल के खिलाफ जुर्म में प्रमाणित होना पाया गया है. जांच रिपोर्ट लूणकरनसर न्यायालय में प्रस्तुत कर दी गई है.

सरपंच मघाराम के द्वारा न्यायालय में तत्कालीन नायब तहसीलदार मित्तल और जयप्रकाश बागड़वा के खिलाफ परिवाद पेश की गई, जिसके बाद न्यायालय ने महाजन पुलिस को जांच सौंपी थी. अधिकारी ईश्वर सिंह ने इस मामले की जांच की और अपनी रिपोर्ट लूणकरनसर न्यायालय के समक्ष पेश की. जांच अधिकारी ईश्वर सिंह अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मामले की बारीकी से जांच कर सभी तथ्य जुटाए गए हैं. इसमें जयप्रकाश बागड़वा, रणजीतसिंह, तत्कालीन रामबाग सरपंच रामेश्वर, तत्कालीन नायब तहसीलदार जयदीप मित्तल के खिलाफ जुर्म धारा 420,467, 468, 471 व 120 बी में प्रमाणित होना पाया गया है.