राजस्थान: जयपुर से UAE ले जाया जा रहा 14 करोड़ का लाल चंदन हुआ जब्त

पिछले दस साल में यह चंदन की लकड़ी की तस्करी का राज्य में यह सातवां मामला है. 

राजस्थान: जयपुर से UAE ले जाया जा रहा 14 करोड़ का लाल चंदन हुआ जब्त
तस्करी कर ले जाया जा रहा बरामद लाल चंदन.

जयपुर: राजस्व आसूचना निदेशालय की टीम ने कनकपुरा कंटेनर डिपो से 18 बॉक्स में 14 हजार पांच सौ किलो लाल चंदन की लकड़िया जब्त की है. इनकी भारतीय बाजार में साढ़े छ करोड़ रुपए और अंतराष्ट्रीय बाजार में 14 करोड़ रुपए कीमत हैं. तस्कर स्टोन के बॉक्स के बीच में लाल चंदन रखकर तस्करी का प्रयास कर रहे थे. विभागीय टीम कंटनेर भेजने के आरोपी पर जल्द कार्रवाई कर सकती है. आपको बता दें कि, भारत से लाल चंदन के लकड़ियों की निर्यात पर पाबंदी है.

पत्थर की अनुमति सप्लाई लाल चंदन की

सीमा शुल्क विभाग (DRI)ने कनकपुरा कंटेनर डिपो पर बड़ी कार्रवाई करते हुए लाल चंदन की लकड़ी से  भरे दो कंटेनर जब्त किए थे. ये दोनों कंटेनर भीलवाड़ा की एक एक्सपोर्ट कंपनी के नाम पर थे, जिन्हें यूएएई भेजने के लिए बुक किया गया था. विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इस माल को एक्सपोर्ट करने वाली एजेंसी ने एक्सपोर्ट बिल में सैंडस्टोन के पिलर्स की एंट्री दर्शाई थी, जबकि इसमें लाल चंदन की लकड़ी की खेप बरामद की गई है. निर्यातक और एजेंसी ने बड़ी ही होशियारी से कंटेनर में आगे की तरफ खाली बॉक्स रखे थे और अंदर चंदन की  खेप को छिपाया हुआ था.

सूत्रों ने यह भी बताया कि इन दोनों कंटनेर्स को कस्टम क्लियरेंस मिल चुकी थी, लेकिन डीआरआई को मिली गुप्त सूचना के बाद इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया. मामले की जांच कर रही विभागीय टीम अब इससे जुड़े अन्य तार खंगाल रहे हैं. इस तस्करी में संलिप्त भारत और विदेश के व्यापारियों की वास्तविक जानकारी विभाग जुटाने में लगा है. इस संबंध में विभागीय सूत्रों का कहना है कि विदेशों में माल भेजने वाली इस निर्यात एजेंसी पर पहले भी कस्टम और डीआरआई विभाग कार्रवाई कर चुका है. 

बताया जा रहा है कि, पिछले दस साल में यह चंदन की लकड़ी की तस्करी का राज्य में यह सातवां मामला है.