Farmer ने इलाज के लिए बचाकर रखे थे दो लाख रुपये, चूहों ने अलमारी में घुसकर कुतर डाले; मंत्री ने बढ़ाया मदद का हाथ

बिहार में चूहों के शराब पीने के किस्से पर हंसी आना लाजमी है, लेकिन तेलंगाना में चूहों ने जो किया, वो वाकई दुखदायी है. चूहों ने एक किसान ने दो लाख रुपये कुतर डाले, जो उसने अपने इलाज के लिए बचाकर रखे थे. हालांकि, जनजातीय, महिला एवं बाल कल्याण मंत्री ने अब मदद का हाथ आगे बढ़ाया है.

Farmer ने इलाज के लिए बचाकर रखे थे दो लाख रुपये, चूहों ने अलमारी में घुसकर कुतर डाले; मंत्री ने बढ़ाया मदद का हाथ
फाइल फोटो: nationalgeographic

हैदराबाद: तेलंगाना (Telangana) में चूहों (Rats) ने एक बुजुर्ग किसान ने 2 लाख रुपये कुतर दिए, जो उसने अपने इलाज के लिए बचाकर रखे थे. सब्जियां बेचकर परिवार का पेट पालने वाले रेड्या नायक (Redya Naik) को कुछ साल पहले मेडिकल जांच में पता चला था कि उनके पेट में ट्यूमर है. इसके बाद से वह अपने इलाज के लिए पैसा इकठ्ठा कर रहे थे. उन्होंने करीब दो लाख रुपये जमा कर लिए थे, लेकिन चूहों ने उन्हें कुतर डाला.

उधार भी लिए थे कुछ पैसे

हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘इंडिया डॉट कॉम’ में छपी खबर के अनुसार, महबूबाबाद जिले के इंदिरानगर आदिवासी इलाके में रहने वाले रेड्या नायक (Redya Naik) ने अपने इलाज के लिए कुछ पैसे बचाए थे और कुछ उन्होंने उधार लिए थे. इस तरह कुल दो लाख रुपये उन्होंने बैग में भरकर अलमारी में रख दिए थे. हाल ही में जब उन्होंने अलमारी खोली तो उनकी आंखें फटी रह गईं. उन्होंने पाया कि बैग फटा हुआ है और उसके अंदर रखे 500-500 के नोट चूहों ने कुतर डाले हैं. 

VIDEO

ये भी पढ़ें -Andhra Pradesh: पिता ने 6 महीने तक किया 14 साल की बेटी का रेप; ऐसे हुआ खुलासा

Banks ने नहीं लिए फटे हुए नोट 

रेड्या नायक ने बताया कि जब उन्होंने अस्पताल जाने के लिए अलमारी से पैसे निकालने चाहे, तो उन्हें बैग फटा हुआ मिला. इसके बाद जो कुछ उन्होंने देखा वो किसी सदमे से कम नहीं था. पाई-पाई जमाकर इकठ्ठा किए दो लाख रुपए टुकड़े-टुकड़े हो चुके थे. घबराए नायक तुरंत बैंक गए, ताकि नोट एक्सचेंज किए जा सकें, लेकिन बैंक ने उन्हें लेने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा, ‘मैं एक नहीं कई बैंक गया, मगर सभी ने नोटों की हालात का हवाला देते हुए मदद से इनकार कर दिया’. 

Minister उठाएंगी इलाज का खर्च

पीड़ित किसान के लिए राहत की बात ये है कि तेलंगाना की जनजातीय, महिला एवं बाल कल्याण मंत्री सत्यवती राठौड़ (Satyavathi Rathod) उसकी मदद के लिए आगे आई हैं. मंत्री ने रेड्या नाइक को इलाज की व्यवस्था कराने का आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि रेड्या जिस अस्पताल में चाहें अपनी सर्जरी करा सकते हैं, उनके इलाज पर होने वाले खर्च की व्यवस्था कर दी जाएगी.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.