BTC Election Results 2020: बीजेपी ने जीती 9 सीटें, BPF बनी सबसे बड़ी पार्टी

देशभर में अपने विस्तार में जुटी बीजेपी (BJP) ने बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के (BTC) चुनाव में शानदार जीत हासिल की है. उसने चुनाव में BTC की 40 में से 9 सीटें जीती है. इससे पहले वर्ष 2015 में उसकी केवल 1 सीट थी.

BTC Election Results 2020: बीजेपी ने जीती 9 सीटें, BPF बनी सबसे बड़ी पार्टी
फाइल फोटो

गुवाहाटी: देश में बीजेपी (BJP) का विजय अभियान लगातार जारी है. पार्टी ने असम के बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के (BTC) चुनाव में शानदार जीत हासिल की है. बीजेपी ने BTC की 40 में से 9 सीटें जीत ली हैं. वहीं बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF) 17 सीटें जीतकर सबसे बड़ा दल बनकर उभरा है. 

BTC चुनाव में BPF ने 17 सीटें जीती 
चुनाव आयोग की ओर से जारी नतीजों के मुताबिक 40 सदस्यीय Bodoland Territorial Council (BTC) में BPF को 17, यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (UPPL) को 12 और बीजेपी (BJP) को 9 सीटें हासिल हुई. जबकि कांग्रेस और निर्दलीय को एक-एक सीट प्राप्त हुई. 

BTC चेयरमैन के लिए 21 सदस्य जरूरी 
BTC के इन चुनावी नतीजों को अगले साल होने जा रहे असम विधान सभा चुनावों का सेमीफाइनल माना जा रहा है. इन चुनावी नतीजों से BTC में पहली बार गठबंधन राज आना तय हो गया है. BTC चेयरमैन का पद जीतने के लिए 21 सदस्यों का जादुई आंकड़ा पाना जरूरी होता है. ऐसे में बीजेपी किंग मेकर की भूमिका में है.

अमित शाह ने असम की जनता को बधाई दी
BTC चुनाव में शानदार जीत हासिल करने पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है. शाह ने कहा कि,' चुनाव में जीत हासिल करने पर मैं अपने UPPL के सहयोगियों, सीएम सर्बानंद सोनोवाल, मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा और असम की सभी जनता को बधाई देता हूं.'

 

जिधर बीजेपी झुकी, उसका बन जाएगा चेयरमैन
बीजेपी यदि BPF के साथ जाती है तो उसके 26 सदस्य हो जाएंगे और चेयरमैन उसका बन जाएगा. वहीं UPPL के साथ जाने पर उसके भी 21 मेंबर हो जाएंगे और उसका चेयरमैन बनना तय हो जाएगा. माना जा रहा है कि बीजेपी दूर की रणनीति को ध्यान में रखते हुए इस बारे में कोई फैसला लेगी. 

ये भी पढ़ें- NRC मामले पर इस पार्टी ने बीजेपी से तोड़ा था नाता, अब फिर से एनडीए में हुई शामिल

असम सरकारी में बीजेपी, BPF सहयोगी हैं
बता दें कि असम की बीजेपी सरकार में BPF भी खास सहयोगी है. लेकिन BTC चुनावों में दोनों पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ी थी. वर्ष 2015 में हुए पिछले BTC चुनाव में बीजेपी को केवल 1 सीट मिली थी. लेकिन वह इस बार अपने वोट शेयर में बढ़ोत्तरी कर  सीटों की संख्या को 9 तक पहुंचाने में कामयाब रही है. 

LIVE TV

2005 में पहली बार हुए थे BTC के चुनाव
BTC की स्थापना बोडो आदिवासियों की स्वतंत्र राज्य की मांग को छोड़ने के ऐवज में की गई थी. इसके लिए केंद्र, असम सरकार और बोडो संगठनों के बीच 2003 में समझौता हुआ था. जिसके बाद पहली बार 2005 में चुनाव कराए गए. अब तक BTC में BPF का ही दबदबा रहा है. BTC को विकास कार्यों के लिए केंद्र और राज्य सरकार की ओर से हर साल भारी फंड मिलता है.

BTC में असम के चार जिले आते हैं
Bodoland Territorial Council (BTC) में असम के चार जिले आते हैं. इनमें कोकराझार, चिरांग, बक्सा और उदलगुरि जिले शामिल हैं. इन जिलों में बोडो आबादी का बहुमत है. इन चुनावों में ऑल इंडिया युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) ने भी अपने उम्मीदवार उतारे थे. लेकिन उसे एक भी सीट नहीं मिल पाई. 

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.