जब बजट के दौरान संसद में लगे मोदी-मोदी के नारे, तब ऐसा था राहुल गांधी का रिएक्शन

संसद में मोदी-मोदी के नारे लगने लगे और राहुल गांधी मुंह में हाथ रखकर बैठे रहे.

जब बजट के दौरान संसद में लगे मोदी-मोदी के नारे, तब ऐसा था राहुल गांधी का रिएक्शन
राहुल गांधी ने मोदी-मोदी के नारों पर ऐसा दिया रिएक्‍शन.
Play

नई दिल्‍ली: मोदी सरकार मे अपने कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया और हर वर्ग का खास ख्याल रखा. उन्होंने मिडिल क्लास को बंपर राहत दी जबकि किसानों का भी विशेष ख्याल रखा. मजदूरों को मासिक पेंशन देकर उन्होंने उनका सम्मान किया. पीयूष गोयल जैसे-जैसे घोषणा कर रहे थे, बीजेपी सांसद मेज थपथपाकर घोषणाओं का स्वागत कर रहे थे. जैसे ही केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने 5 लाख तक की आय को टैक्स फ्री करने की घोषणा की. संसद में मोदी-मोदी के नारे लगने लगे और राहुल गांधी मुंह में हाथ रखकर बैठे रहे.

चुनाव से पहले मोदी सरकार ने करदाताओं के लिए बहुत बड़ी घोषणा की. मोदी सरकार ने घोषणा की पांच लाख से ऊपर आय वालों को 13 हजार रुपये का फायदा होगा. इसी के साथ एफडी के ब्याज पर 40 हजार तक टैक्स नहीं देना होगा. अबतक 10 हजार  ब्याज पर टैक्स नहीं था. निवेश के साथ 6.5 लाख रुपये की आय पर कोई टैक्‍स नहीं देना होगा. महिलाओं को बैंक से 40 हजार तक ब्‍याज पर टैक्‍स नहीं देना होगा.

वेतनभोगियों को बड़ी खुशखबरी दी है. गोयल ने ग्रेच्युटी भुगतान सीमा को 10 लाख रुपये से 20 लाख रुपये कर दिया गया है. इसका मतलब यह है कि अब लगभग पांच साल के बाद नौकरी छोड़ने पर मिलने वाली अधिकतम 10 लाख रुपये की राशि को बढ़ाकर अधिकतम 20 लाख रुपये कर दिया गया है.

इसकी घोषणा होते ही सांसदों ने खुशी से मोदी-मोदी के नारे लगाने शुरू किए, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मुंह लटकाए संसद में बैठे नजर आए. ऐसा लगा मानों लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार के सिक्सर से राहुल गांधी गहरा धक्का लगा है.