खुलासाः गायों को नशे का इंजेक्शन देकर कर देते थे हत्या, फिर...

यह तीनो मवेशीयों को खरीदते थे. जिसके बाद नशे का इंजेक्शन देकर उनको मारा जाता था.

खुलासाः गायों को नशे का इंजेक्शन देकर कर देते थे हत्या, फिर...
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

रत्नागिरीः महाराष्ट्र के रत्नागिरी में गाय को नशे का इंजेक्शन देकर उनकी हत्या करने का मामला सामने आया है. इस मामले में रत्नागिरी पुलिस नें तीन लोगो को गिरफ्तार किया है. शमशुद्दीन इस्माईल खेरटकर, पांडुरंग कदम और संतोष गमरे इन आरोपीयों को गिरफ्तार किया है. यह तीनो मवेशीयों को खरीदते थे. जिसके बाद नशे का इंजेक्शन देकर उनको मारा जाता था. गांव-गांव जाकर यह तीनों गाय-बैल खरीदते थे. उनको एक बड़े से तबेले में रखते थे और बाद में उन्हे नशे का इंजेक्शन देकर मार देते थे. पुलिस के पास जब इस पूरी घटना की शिकायत किसी ने की तो पुलिस ने शिकायतकर्ताओं को आरोपियों को पकड़ने की बात कही.

MP: कमलनाथ सरकार ने जताई गायों पर चिंता, शुरू की गौशाला भेजने की मुहिम

लेकिन 25 जनवरी को खेड तालुका में पिरलोटे गांव के पास बड़ी मात्रा में स्थानिय लोग पहुंचे और उन्होनें आरोपियों को तुरंत पकड़ने की मांग को लेकर धरना आंदोलन किया. यही नहीं पुलिस के तुरंत न निकलने पर आगजनी और तोड़फोड़ पर उतर आए. जिन्हे रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पडा था. इस लाठीचार्ज में कुछ पुलिसवाले और गावंवाले घायल हो गए थे.रत्नागिरी के पुलिस सुप्रीटेंडेंट डॉ. प्रवीण मुंढे नें इस मामले में पुलिसकर्मीयों को क्लिन चीट दी है.

गाय के नाम पर वोट मांगना और राजनीति करना 'पाप' है: अरविंद केजरीवाल 

मुंढे ने बताया की गिरफ्तार तीनों आरोपी खेड तालुका में अलग अलग गांव के निवासी हैं. जो कि गाय-बैल को मारकर अपनी जिंदगी चलते थे. यह उनका काम ही था, लेकिन जो तरीका उन्होनें चुना वह गलत था. हम मामले की जांच कर रहें हैं. वहीं ग्रामीणों के मुताबिक तीनों आरोपी जगह-जगह से गाय-बैल खरीदकर लाते थे और उन्हें नशीले इंजेक्शन देकर मार डालते थे, जो कि गलत है. इसलिए सभी की मांग है कि तीनों आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा हो.