PUBG खेलते-खेलते बंद हो गया मोबाइल, गुस्साए साले ने जीजा पर चाकू से कर दिया वार

रजनीश के मोबाईल पहुंचा तो उसे पता चला की चार्जर की वायर को घर के कुत्ते ने काटकर खराब कर दिया है. यह कुत्ता बहन का था, तो दोनों में झगड़ा हो गया.

PUBG खेलते-खेलते बंद हो गया मोबाइल, गुस्साए साले ने जीजा पर चाकू से कर दिया वार
रजनीश ने ओम के पेट और जांघों पर धारधार चाकू से हमला किया और भाग गया.

आतिश नाईक/ ठाणेः​ PUBG गेम अब लोगों को दिवाना बनाना के साथ-साथ हैवान भी बनाता जा रहा है. युवा और स्कूली बच्चों में इस गेम का क्रेज इस गेम युवाओ को हिंसक बना रहा है. महाराष्ट्र के ठाणे के पास कल्याण इलाके में एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक युवक ने पब्जी की दिवानगी के चक्कर में अपने होने वाले बहनोई और बहन दोनों पर धारधार चाकू से हमला किया और वह भाग गया. घटना 13 फरवरी की है. अंबरनाथ में रहने वाले ओम बावधनकर अपनी होने वाली पत्नी से मिलने कल्याण में आए थे. उस वक्त उनका होने वाला साला रजनीश राजभर पब्जी गेम खेल रहा था. रजनीश के मोबाईल के बैटरी खत्म हो गई तो वह मोबाइल चार्ज करने पहुंचा तो उसे पता चला की चार्जर की वायर को घर के कुत्ते ने काटकर खराब कर दिया है. यह कुत्ता बहन का था, तो दोनों में झगड़ा हो गया. 

'परीक्षा पे चर्चा' में PM मोदी को करना पड़ा PUBG का जिक्र, यह था कारण

ओम उस वक्त वहीं पर बैठा था. रजनीश ने गुस्से में आकर किचन से चाकू लाया और पहले बहन के लैपटॉप की वायर काटी. जिसके बाद भाई-बहन का झगडा बढ़ा. रजनीश अपना आपा खो चुका था. उसने अपनी बहन पर चाकू से हमला किया. अपनी होने वाली पत्नी को लहूलुहान देख ओम बचाने पहुंचा. तो रजनीश ने उसके पेट और जांघों पर धारधार चाकू से हमला किया और भाग गया. बुरी तरह घायल ओम को पहले उल्हासनगर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जिसके बाद उसे कलवा इलाके के छत्रपती शिवाजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के छह दिन बाद मामला कल्याण के कोलसेवाडी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज हुआ. 

इंटरनेट पर छा गया इस लड़की का VIDEO, अपनी आवाज और स्टाइल से मचा रहीं धमाल

पुलिस ने आईपीसी की धारा 319 यानी जान से मारने की कोशिश का मामला दर्ज किया है, लेकिन अब तक रजनीश राजभर पुलिस के गिरफ्त के बाहर है. घटना के बाद जो वह घर से भाग गया अब तक लापता है.  डीसीपी दत्तात्रेय कांबले ने बताया कि रजनीश गायब हो गया है, जिसे हमारी टीमें ढूंढ रही हैं, लेकिन वह लापता है. पुछताछ जारी है. घायल ओम बावधनकर का कहना है कि पुलिस जान-बूझकर मामले को लंबा खींच रही है. आईपीसी की धारा 319 बड़ी है, लेकिन इसके बावजूद मेरे ऊपर हमला करने वाला बाहर है.