मैं कांग्रेस को अगले 10 साल तक विपक्ष में बैठाने की पूरी कोशिश करूंगा: येदियुरप्पा

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि वह कांग्रेस को राज्य में लगातार 10 साल तक विपक्ष में बैठाना चाहते हैं.

मैं कांग्रेस को अगले 10 साल तक विपक्ष में बैठाने की पूरी कोशिश करूंगा: येदियुरप्पा
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा (फाइल फोटो).

बेंगलुरु: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने शनिवार को कहा कि उनका सपना अगले विधानसभा चुनाव (Karnatka Vidhansabha Election) में भाजपा (BJP) की जीत सुनिश्चित करना और कांग्रेस (Congress) को लगातार 10 साल तक विपक्ष में बैठाना है. अविश्वास प्रस्ताव (no-confidence motion) पर जवाब देते हुए, येदियुरप्पा ने बेहद तल्ख अंदाज में कहा कि कांग्रेस कर्नाटक में भाजपा को दिए गए जनादेश का मजाक कैसे बना सकती है?

लोगों का भाजपा सरकार पर भरोसा
येदियुरप्पा ने कहा, ‘हमने 28 में से 25 लोकसभा सीटें जीतीं. यह क्या संकेत देता है? 15 विधानसभा सीटों के उपचुनावों में हमने हाल ही में 12 सीटें जीती हैं. इसका क्या मतलब है? इसका केवल यही मतलब है कि लोगों का मुझ पर और मेरी सरकार पर अटूट विश्वास है.‘

सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार को खुली चुनौती
विपक्ष के नेता सिद्धारमैया (Siddaramaiah) की भाजपा सरकार पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर आक्रोश व्यक्त करते हुए येदियुरप्पा ने कहा, ‘मेरा सपना कर्नाटक में अगले 10 वर्षों तक कांग्रेस को विपक्ष में बैठाने का है. सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार दोनों के लिए यह खुली चुनौती है कि मैं अगली बार 130 से 140 सीटों पर अपनी पार्टी की जीत सुनिश्चित करूंगा. वह इस राज्य में मुझे दिए गए जनादेश को न भूलें.’

भ्रष्टाचार में लिप्त रही सिद्धारमैया सरकार
येदियुरप्पा ने आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती सिद्धारमैया की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार भारी भ्रष्टाचार में लिप्त रही है, वह खुद के दिए आश्वासनों को भी पूरा नहीं कर सकी. सिद्धारमैया ने आश्वासन दिया था कि वह 15 लाख घर बनवाएंगे जो नहीं बनवा पाए. उन्होंने सिंचाई परियोजनाओं के लिए 1.3 लाख करोड़ रुपये का आश्वासन दिया, लेकिन वे केवल 10,000 करोड़ रुपये ही मंजूर कर पाए. इस कारण लोगों ने कांग्रेस और उसकी सरकार को शाप दिया. इसीलिए कांग्रेस विपक्ष में है और आगे भी विपक्ष में ही बैठना पड़ेगा.

आरोप साबित हुए तो सन्यास
सिद्धारमैया द्वारा उठाए गए कई सवालों और लगाए आरोपों का जवाब देते हुए, येदियुरप्पा ने दोहराया कि उन्होंने सिद्धारमैया को उनके और उनके परिवार के सदस्यों पर लगाए गए आरोपों को साबित करने के लिए खुली चुनौती दी है. उन्होंने कहा कि ‘आपका (सिद्धारमैया) आरोपों को साबित करने का कर्तव्य है. मैं अपने शब्दों के साथ खड़ा हूं, यदि आप मेरे या मेरे परिवार के खिलाफ एक भी आरोप साबित करते हैं तो सार्वजनिक जीवन से सन्यास ले लूंगा.’

(इनपुट: IANS)

VIDEO