close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस के 3 विधायक BJP के साथ, ऑपरेशन लोटस के कारण कर्नाटक सरकार पर खतरे का दावा!

कर्नाटक के मंत्री डीके शिवकुमार ने बीजेपी पर कांग्रेस विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप लगाया. डीके श‍िवकुमार ने मुख्‍यमंत्री कुमारस्‍वामी पर भी बीजेपी का पक्ष लेने का आरोप जड़ द‍िया.

कांग्रेस के 3 विधायक BJP के साथ, ऑपरेशन लोटस के कारण कर्नाटक सरकार पर खतरे का दावा!
फाइल फोटो

बेंगलुरू :  कर्नाटक की कांग्रेस जेडीएस सरकार पर खतरा मंडरा रहा है. कांग्रेस के ही मंत्री ने दावा किया है कि उनकी ही पार्टी के तीन वि‍धायक बीजेपी के संपर्क में हैं. जो इस समय मुंबई में मौजूद हैं. कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री डी के. शिवकुमार ने रविवार को कहा कि राज्य की गठबंधन (कांग्रेस- जेडीएस) सरकार को गिराने के लिए भाजपा का ‘ऑपरेशन लोटस’ वास्तव में चल रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के तीन विधायक मुंबई के एक होटल में भाजपा के कुछ नेताओं के साथ डेरा डाले हुए है.

कांग्रेस नेता शिवकुमार ने कहा, ‘राज्य में विधायकों की खरीद फरोख्त जारी है. हमारे तीन विधायक भाजपा के कुछ विधायकों और नेताओं के साथ मुंबई के एक होटल में हैं. वहां क्या कुछ हुआ है उन्हें कितनी रकम की पेशकश की गई है, उससे हम अवगत हैं.’ गौरतलब है कि 2008 में कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा नीत सरकार की स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए भाजपा द्वारा कई विपक्षी विधायकों को कथित प्रलोभन दिए जाने को ‘ऑपरेशन लोटस’ के नाम से जाना जाता है.

आप के पूर्व नेता फुल्‍का ने BJP नेताओं के साथ नजदीकियां स्वीकार की, लेकिन...

शिवकुमार ने मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी पर भाजपा के प्रति उदार होने आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘हमारे मुख्यमंत्री भाजपा के प्रति कुछ उदार हैं. चल रही साजिश से सभी विधायकों ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया है. उन्होंने सिद्धरमैया को भी इस बारे में बताया है.’ शिवकुमार ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री इंतजार करो और देखो की नीति अपना रहे हैं. यदि मैं उनकी जगह होता तो इसका 24 घंटे के अंदर खुलासा कर देता.’ हालांकि उन्होंने भरोसा जताया कि भाजपा अपनी कोशिश में सफल नहीं होगी.

उन्होंने राज्य में विपक्षी भाजपा का संभवत: जिक्र करते हुए कहा, ‘आप कह रहे हैं कि मकर सक्रांति के बाद एक क्रांति होगी. चलिए देखते हैं.’ गौरतलब है कि राज्य में कांग्रेस के कई विधायकों ने आरोप लगाया है कि भाजपा नेताओं ने अपनी पार्टी में शामिल करने के लिए उनसे संपर्क किया है. वहीं, भगवा दल ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है.