close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

औरंगाबाद के जायकवाडी डैम में छोड़ा गया पानी, किसानों ने पूजा करके किया जल देवता का स्वागत

बीते कुछ महीनों से भारी जलसंकट झेल रहे ग्रामीणों को जैसे ही पता चला कि जायकवाडी डैम में पानी छोड़ा गया है, ग्रामीण यहां पूजा करने पहुंच गए.

औरंगाबाद के जायकवाडी डैम में छोड़ा गया पानी, किसानों ने पूजा करके किया जल देवता का स्वागत
डैम के पास पूजा करते किसान.

नई दिल्लीः नासिक के बाढ़ का पानी औरंगाबाद के जायकवाडी डैम में छोड़ा गया था. वह पानी आज जायकवाडी डैम में पहुंचा. ऐसे में बीते कुछ महीनों से भारी जलसंकट झेल रहे ग्रामीणों को जैसे ही पता चला कि जायकवाडी डैम में पानी छोड़ा गया है, ग्रामीण यहां पूजा करने पहुंच गए. किसानों ने यहां पानी की पूजा की और फूल माला चढ़ाकर जल देवता का धन्यवाद किया. बता दें कुछ दिनों पहले तक यह डैम पूरी तरह सूखा हुआ था, ऐसे में डैम का जलस्तर देखकर ग्रामीणों को काफी खुशी हो रही है.

बता दें नासिक इन दिनों बाढ़ की मार झेल रहा है. ऐसे में प्रशासन ने नासिक का जलस्तर कम करने के लिए नांदर मधमेश्वर डैम के जरीए जायकवाडी डैम की ओर डायवर्ट कर दिया, जिसके बाद आज यह पानी औरंगाबाद जिले के कायगाव इलाके में पहुंचा तो डैम के इलाके में रहने वाले किसान खुश हो गए. बता दें औरंगाबाद के इस इलाके में किसान अभी भी बारिश के इंतजार में बैठे हैं. बारिश न होने की वजह से वह फसलों को भी काफी नुकसान हो रहा है, जिसकी वजह से किसान काफी चिंता में थे. ऐसे में जैसे ही नासिक के नांदर मधमेश्वर डैम का पानी औरंगाबाद के लिए डायवर्ट किया गया, किसानों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

Nashik flood water released in Jaikwadi dam of Aurangabad

भारी बारिश के चलते नासिक में हुआ जलभराव, पानी में डूब गईं गाड़ियां

नासिक का यह पानी नांदूर मध्यमेश्वर डैम से जायकवाडी डैम में छोडा गया. यहा पर किसान डैम के किनारे पर पहुंचे और उन्होंने वहां पर पानी की पूजा की. अब धीरे-धीरे जायकवाडी डैम भरने लगा है. लोगों को कहना है की अब उनके पानी की किल्लत खत्म हो जाएगी. एक महीने पहले से जायकवाडी डैम पुरी तरह सूखा हुआ था. बता दें जायकवाडी डैम मराठवाडा का सबसे बड़ा डैम है. जो की औरंगाबाद शहर के साथ-साथ जिले में पानी सप्लाई कर लोगों की प्यास बुझाता है.