अब रोबोट करेंगे सीवर की सफाई, यूपी के इस शहर से हुई पहल

अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि ये मशीन एक बार मे करीब 5 से 10 किलो तक मलबा निकालती है. जिससे एक दिन में करीब 10 मेनहोल साफ किए जा सकते हैं. इस रोबोट का नाम Bandicoat है, जिसका मतलब है 'जंगली चूहा'. 

अब रोबोट करेंगे सीवर की सफाई, यूपी के इस शहर से हुई पहल

नोएडा: अब 'इंसान' नहीं बल्कि 'रोबोट' करेगा सीवर की सफाई. जी हां आपने बिल्कुल सही पढ़ा. मेनहोल में उतरकर सफाई कर्मचारियों को अपनी जान जोखिम में ना डालनी पड़े इसलिए ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) ने एक खास तरह के रोबोट तैयार कराए हैं जिसकी मदद से मेनहोल में उतरे बिना ही सारा मलबा बाहर निकाला जा सकता है. 

ये रोबोट मिनटों में सीवर को अच्छे से साफ कर देता है. इतना ही नहीं इसमें कैमरा और गैस डिटेक्टर भी लगाया गया है, जिसकी मदद से नाले की गहराई और उसमें कितना मलबा है इसका पता लगाया जा सकता है. इसके अलावा ये नाले में पैदा होने वाली जहरीली गैस के बारे में भी पता लगा सकता है. निर्माताओं ने इसमें एक ऐसा अलर्ट सिस्टम लगाया है जो गैस का पता लगते ही कर्मी को अलर्ट कर देता है.

ये भी पढ़ें:- भारत ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना से जंग के लिए नेपाली सेना को गिफ्ट किए 10 वेटिंलेटर

अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि ये मशीन एक बार मे करीब 5 से 10 किलो तक मलबा निकालती है. जिससे एक दिन में करीब 10 मेनहोल साफ किए जा सकते हैं. इस रोबोट का नाम Bandicoat है, जिसका मतलब है 'जंगली चूहा'. यानि चूहे की तरह ही ये मशीन जमीन में गड्ढा खोद कर उसमें से मलबा बाहर निकलती है.

गौरतलब है कि हमारे देश में आज भी ज्यादातर इलाकों में सीवर की सफाई के लिए इंसानों को मेनहोल में उतरना पड़ता है. इस दौरान हानिकारक गैस की वजह से कई बार बड़े हादसे भी हो जाते हैं जिसमें अब तक कई लोग अपनी जान भी गवां चुके हैं तो कई गंभीर बीमारियों का शिकार हो गए हैं. इंसानों की जान की कीमत को समझते हुए सरकार ने इसे लागू करने का फैसला किया है.

LIVE TV