close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राज्यसभा में तीन तलाक बिल पास होने पर कानून मंत्री ने कहा- यह बदलते भारत की शुरुआत

राज्यसभा में इस विधेयक के पक्ष में 99 वोट पड़े, जबकि 84 सांसदों ने इसके विरोध में मतदान किया. 

राज्यसभा में तीन तलाक बिल पास होने पर कानून मंत्री ने कहा- यह बदलते भारत की शुरुआत
केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (फोटो साभर ANI)

नई दिल्ली: मुस्लिम महिलाओं से एक साथ तीन तलाक को अपराध करार देने वाला विधेयक राज्यसभा से पारित हो गया है. इस विधेयक के पारिक हो जाने के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इसे बदलते भारत की शुरुआत बताया. केंद्रीय कानून मंत्री ने कहा कि आज एक ऐतिहासिक दिन है, दोनों सदनों ने मुस्लिम महिलाओं के साथ न्याय किया है. यह बदलते भारत की शुरुआत है.  बता दें उच्च सदन में मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक के पक्ष में 99 वोट पड़े, जबकि 84 सांसदों ने इसके विरोध में मतदान किया. 

एनडीए के 16 सदस्यों ने बिल का बहिष्कार किया और वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया. उधर, विपक्ष की ओर से एनसीपी, बसपा, आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने बॉयकट किया. कांग्रेस के 4 सदस्य किसी वजह से सदन में मौजूद नहीं थे. वहीं बीजेपी के दो सांसद सदन में मौजूद नहीं थे. 

ट्रिपल तलाक बिल राज्यसभा में पास होने पर पीएम मोदी ने भी ट्वीट करके प्रतिक्रिया दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "ट्रिपल तलाक बिल से समाज में समानता आएगी. मुस्लिम महिलाओं के साथ अन्याय रुकेगा. संसद ने आज ट्रिपल तलाक को खत्म कर दिया. आज करोड़ों मुस्लिम माता-बहनों की जीत हुई, आज महिला सशक्तिकरण के लिए बड़ा दिन है. तुष्टिकरण के नाम पर करोड़ों माता-बहनों को अधिकारों से वंचित रखा गया. आज ऐतिहासिक भूल सुधारी गई." 

 

 

यह एक एतिहासिक गलती- कांग्रेस
वहीं कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा कि मैं समझता हूं कि इस देश के अंदर किसी भी फैमिली लॉ लेकर यह एक बहुत बड़ा झटका है. एक सिविल कानून को क्रिमिनल कानून बना दिया गया है. यह एक एतिहासिक गलती है.