Covid Pandemic: एक बेटे का अंतिम संस्‍कार कर लौटे, घर में मिली Corona से जंग लड़ रहे दूसरे बेटे की लाश

नोएडा वेस्ट के जलालपुर गांव का एक परिवार गहरे सदमे में है. यहां पिता एक बेटे का अंतिम संस्‍कार कर घर लौटे तो वहां उन्‍हें अपने दूसरे बेटे की लाश मिली. दोनों लड़के कोरोना वायरस से संक्रमित थे.

Covid Pandemic: एक बेटे का अंतिम संस्‍कार कर लौटे, घर में मिली Corona से जंग लड़ रहे दूसरे बेटे की लाश
प्रतिकात्‍मक फोटो

नई दिल्‍ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) की लहर केवल शहरों में ही नहीं बल्कि गांवों में भी भयावह असर दिखा रही है. गांवों में भी कोरोना संक्रमण के कारण बड़ी संख्‍या में मौतें हो रही हैं. ऐसे ही हालात नोएडा (Noida) वेस्ट के जलालपुर गांव में है. यहां एक परिवार ने कोरोना के कारण कुछ घंटों में ही अपने 2 बेटों को खो दिया. 

एक का किया अंतिम संस्‍कार, घर में दूसरे की मौत 

जलालपुर गांव में रहने वाले अतर सिंह के बेटे पंकज की मौत हो गई. वे उसका अंतिम संस्‍कार करके घर पहुंचे तो वहां दूसरा बेटा दीपक दम तोड़ चुका था. उनके दोनों बेटे कोरोना संक्रमित थे. एक ही दिन में 2 जवान बेटों की मौत से मां-बाप पर दुखों का पहाड़ टूट गया है. इस सदमे के कारण मां रह-रहकर बेहोश हो रही है.

ये भी पढ़ें: बिहार में अब तक गंगा नदी से निकाले गए 73 शव, जेसीबी से दफनाने का काम जारी

10 दिन में 18 मौतें

कई गांवों की तरह जलालपुर गांव में भी कोरोना ने जमकर तांडव मचा रहा है. आज तक में छपी खबर के मुताबिक ग्रामीणों ने बताया कि पिछले 10 दिनों में यहां 6 महिलाओं समेत 18 लोगों की मौत हो चुकी है. जानकारी के मुताबिक 28 अप्रैल से गांव में मौतों का सिलसिला शुरू हुआ था जो अब तक जारी है. यह बात हैरान करने वाली है कि गांव में ज्‍यादातर लोगों की मौत घर में हुई. इन सभी को बुखार आया था और बाद में ऑक्सीजन लेवल कम होता गया. इन मौतों के कारण ग्रामीण दहशत में हैं.

पीएम मोदी ने जताया था अंदेशा 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले ही यह अंदेशा जताया था कि गांवों तक संक्रमण पहुंचने पर हालात बहुत खराब हो सकते हैं. लिहाजा वहां बहुत ज्‍यादा सावधानी बरतने की जरूरत है. एक तरफ शहरों में ही अस्‍पतालों में बेड, ऑक्‍सीजन नहीं मिल रहे हैं, उस पर गांवों में तो यह सुविधाएं ही नहीं है. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.