आजम खान का विवादित बयान, 'फौजियों की जिंदगियों पर वोट गिने जा रहे हैं'

समाजवादी के वरिष्ठ नेता आजम खान विवादित बयान देने के लिए जाने जाते हैं.  

आजम खान का विवादित बयान, 'फौजियों की जिंदगियों पर वोट गिने जा रहे हैं'
आजम खान ने अपने विवादित बयान में कहा कि पहली बार ऐसा हुआ है कि सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर वोट मांगे जा रहे हैं...

लखनऊ: एयर स्ट्राइक के मुद्दे का राजनीतिकरण करने से नेता बाज नहीं आ रहे हैं. समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने भी इसी से जुड़ा एक विवादित बयान दिया है. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आजम खान ने कहा, "पहली बार ऐसा हुआ है कि सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर वोट मांगे जा रहे हैं यानी फौजियों की जिंदगियों पर वोट गिने जा रहे हैं, कि सरहदों का भी सौदा हो गया है. खून का सौदा हो गया है, वर्दियों का सौदा हो गया है." आजम खान विवादित बयान देने के लिए जाने जाते हैं.

इससे पहले, आज ही नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला ने बीजेपी नीत केंद्र सरकार के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने लोकसभा चुनाव जीतने के 'एकमात्र उद्देश्य' के साथ पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले के आदेश दिए. श्रीनगर से सांसद ने आरोप लगाया कि बीजेपी सभी मोर्चो पर 'विफल' रही और यह पूरी तरह माना जा रहा था कि चुनाव से पहले पाकिस्तान के साथ लड़ाई या टकराव होगा ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक 'अवतार' के रूप में सामने आए जिसके बिना भारत का गुजारा हो ही नहीं सकता. 

 

उन्होंने पत्रकारों से कहा, "यह सर्जिकल स्ट्राइक पूरी तरह से चुनाव के लिए, केवल चुनाव के उद्देश्य से की गई.  हमने करोड़ों रुपये मूल्य का विमान गंवा दिया। शुक्र है कि भारतीय वायु सेना का पायलट जीवित बच गया और सम्मान के साथ पाकिस्तान से लौट आया." 

अब्दुल्ला ने कहा, "संसद में हमें पता है कि वे सभी दूसरे मोर्चों पर विफल हो गए और कश्मीर में पाकिस्तान के साथ लड़ाई या टकराव होगा ताकि वह एक तरह का 'अवतार' बन जाए जिनके बिना भारत चल ही नहीं सकता लेकिन मैं उन्हें बताना चाहता हूं वह या मैं रहे या ना रहे, भारत जिंदा रहेगा और आगे बढ़ता रहेगा."