मिशन 2019: बीजेपी कैसे लहराएगी परचम, जेपी नड्डा से समझिए 'चुनाव केमेस्ट्री'

 पार्टी में उत्तर प्रदेश की नई जिम्मेदारी मिलने के बाद पहली बार राजधानी पहुंचे नड्डा ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बैठक की. 

मिशन 2019: बीजेपी कैसे लहराएगी परचम, जेपी नड्डा से समझिए 'चुनाव केमेस्ट्री'
उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की 73 नहीं बल्कि 74 सीटें जीतेंगे. (फोटो-एएनआई)

लखनऊ: केन्द्रीय मंत्री एवं बीजेपी के उत्तर प्रदेश चुनाव प्रभारी जेपी नड्डा ने बुधवार को विश्वास जताया कि उनकी पार्टी राज्य की 80 लोकसभा सीटों में से 74 पर विजय हासिल करेगी. पार्टी में उत्तर प्रदेश की नई जिम्मेदारी मिलने के बाद पहली बार राजधानी पहुंचे नड्डा ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बैठक की. उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की 73 नहीं बल्कि 74 सीटें जीतेंगे. 

पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 71 सीटें जीती थीं जबकि उसकी सहयोगी पार्टी अपना दल-एस ने दो सीटों पर विजय हासिल की थी. नड्डा ने बीजेपी के प्रदेश मुख्यालय पर कहा कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी जबर्दस्त विजय हासिल करेगी. सभी रिकार्ड टूट जाएंगे. इसकी वजह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार द्वारा किये गये कार्य हैं.

बीजेपी उत्तर प्रदेश के लोकसभा चुनाव प्रभारी और केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने कहा कि जीत के सभी चिराग हमारे पास हैं. चुनाव फिजिक्स नहीं केमेस्ट्री है. बीजेपी अब 2014 की बीजेपी नहीं है. सदस्य और संख्या का विस्तार हुआ है. यूपी में भी संगठन बढ़ा है. विस्तार हुआ है और जब पलटन बढ़ती है तो संभालने वालों की भी संख्या बढ़ती है. 

उन्होंने कहा कि चुनाव में विकास ही मुद्दा होगा. नड्डा से पूछा गया कि क्या सपा-बसपा गठबंधन से किसी तरह का खतरा है? इस सवाल पर नड्डा ने कहा कि हमें पता था कि ऐसा गठबंधन होने जा रहा है. हमें इसकी उम्मीद थी. हमारी रणनीति होगी कि कम से कम 50 प्रतिशत वोट हिस्सेदारी हासिल की जा सके. 

बीजेपी पर चुनावी वादे पूरे न करने के विरोधी दलों के आरोप पर नड्डा ने कहा कि वे अपना खुद का रिकार्ड बता रहे हैं. उनकी राजनीतिक संस्कृति कमीशन, भ्रष्टाचार और बंटवारे की रही है जबकि बीजेपी 'सबका साथ सबका विकास' में यकीन करती है.