चित्रकूट के ‘हैवान इंजीनियर’ से CBI की पूछताछ जारी, हाथ लगे कई अहम सबूत

शनिवार को CBI की मौजूदगी में बाल कल्याण समिति की तीन सदस्यीय टीम ने सीबीआई कैम्प कार्यालय में दो घंटे तक पूछताछ की. टीम में दो महिलाएं शामिल हैं.

चित्रकूट के ‘हैवान इंजीनियर’ से CBI की पूछताछ जारी,  हाथ लगे कई अहम सबूत
फाइल फोटो.

चित्रकूट: बच्चों के यौन शोषण के आरोपी इंजीनियर रामभवन से पूछताछ तीसरे दिन भी जारी रही. शनिवार को CBI की मौजूदगी में बाल कल्याण समिति की तीन सदस्यीय टीम ने सीबीआई कैम्प कार्यालय में दो घंटे तक पूछताछ की. टीम में दो महिलाएं शामिल हैं. आरोपी रामभवन कोविड पॉजिटिव होने के बाद भी सीबीआई की कस्टडी में है. शुक्रवार को CBI आरोपी का मेडिकल टेस्ट कराकर उसके किराए के मकान पर उसे लेकर पहुंची. जहां सीबीआई ने कई जरूरी दस्तावेज और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जब्त किए. तीन घण्टे की छानबीन में सीबीआई को काफी अहम सुराग हाथ लगे हैं. गौरतलब है कि सीबीआई आरोपी इंजीनियर से 26 नवंबर को रिमांड में लेकर पूछताछ कर रही है. कोर्ट के आदेशानुसार आरोपी 30 नवंबर शाम 4 बजे तक सीबीआई की कस्टडी में रहेगा.   

दिलवाले टशन से दुल्हनिया ले आएः दुल्हन की एंट्री देखने पूरा गांव छतों पर पहुंचा 

 छह शर्तों के साथ दी आरोपी जेई की रिमांड 
कोर्ट ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति को होम आइसोलेशन या क्वारंटीन में रहना है. रिमांड में सीबीआई आरोपी को आइसोलेशन में रखकर पीपीई किट पहनकर, केंद्र व राज्य सरकार, उच्च न्यायालय इलाहाबाद की कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए पूछताछ करेगी. अदालत ने सीबीआई को आदेश दिया है कि आरोपी को कस्टडी में लेने से पहले और वापस भेजने से पहले उसके शरीर का मेडिकल कराए. 

'लव जिहाद' अध्यादेश पर राज्यपाल की भी मुहर, बना कानून   

 क्या है पूरा मामला? 
सीबीआई ने 50 बच्चों का यौन शोषण करने और उनकी अश्लील वीडियो व फोटो पॉर्न वेबसाइट को बेचने के आरोप में 31 अक्टूबर को एक मामला दर्ज किया था. इसके बाद चित्रकूट में तैनात सिंचाई विभाग के जेई रामभवन को आधिकारिक तौर पर 16 नवंबर को गिरफ्तार कर बांदा की पॉक्सो अदालत में 18 नवंबर को पेश किया था. कोर्ट ने 5 दिन के लिए आरोपी जेई को सीबीआई कस्टडी में भेजा था. सीबीआई ने अदालत से फिर जेई की रिमांड मांगी थी. अदालत ने 30 नवंबर तक सीबीआई को रिमांड दे दी. गिरफ्तारी के तुरंत बाद यूपी सिंचाई विभाग ने आरोपी जेई को निलंबित कर दिया था. 

WATCH LIVE TV