close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आज दरवेश यादव के घर जा सकते हैं अखिलेश यादव, मायावती ने ट्वीट कर BJP सरकार पर साधा निशाना

शव घर पहुंचने पर परिजनों ने हत्या की सीबीआई जांच की मांग की. परिजनों ने हत्या के आरोपी मनीष पर आरोप लगाया है कि उसने बार काउंसिल के अधिवक्ताओं के कल्याण के लिए आने वाले पैसों का गबन किया था.

आज दरवेश यादव के घर जा सकते हैं अखिलेश यादव, मायावती ने ट्वीट कर BJP सरकार पर साधा निशाना
फाइल फोटो

नई दिल्ली/लखनऊ: उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव का शव उनके निवास स्थान एटा पहुंच गया है. जानकारी के मुताबिक, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव आज (गुरुवार) को दरवेश यादव के घर जा सकते हैं. वहीं हत्या के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट करके बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है.

मायावती ने किया ट्वीट
मायावती ने ट्वीट कर कहा, 'यूपी बार काउंसिल की नवनिर्वाचित अध्यक्ष दरवेश यादव की आगरा कोर्ट परिसर में जघन्य हत्या अति-दुःखद और अति-निन्दनीय.' इसके साथ ही उन्होंने शामली में पत्रकार पिटाई पर भी बीजेपी सरकार को घेरा और कहा, 'साथ ही शामली में पुलिस द्वारा पत्रकारों की अकारण पिटाई जैसी घटनाएं साबित करती हैं कि लोकसभा चुनाव के बाद BJP के शासन में अराजकता और जंगलराज और भी ज्यादा बढ़ गया है.'
 
परिजनों ने की CBI जांच की मांग
वहीं, शव घर पहुंचने पर परिजनों ने हत्या की सीबीआई जांच की मांग की. परिजनों ने हत्या के आरोपी मनीष पर आरोप लगाया है कि उसने बार काउंसिल के अधिवक्ताओं के कल्याण के लिए आने वाले पैसों का गबन किया था.

UP बार काउंसिल अध्यक्ष का हो रहा था स्वागत, अचानक वकील ने तड़तड़ा दी गोलियां, मौत

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने जताया दुख
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव की हत्या पर दुख जताया है. साथ ही लखनऊ बेंच समेत प्रदेश के सभी जिला अदालतों में अधिवक्ताओं और न्यायिक प्रक्रिया से जुड़े लोगों की सुरक्षा क़ो लेकर सरकार से तत्काल प्रभावी क़दम उठाने का निर्देश दिया है. आगरा में हुई इस दुःखद घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए हाईकोर्ट के रजिस्टार जनरल ने पत्र ज़ारी किया है.

ये था मामला
आपको बता दें कि कल आगरा की दीवानी कचहरी में स्वागत समारोह के दौरान दरवेश यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. गोली मारने वाला आरोपी भी वकील ही है, जिसने खुद को भी गोली मार ली. आरोपी मनीष को गंभीर हालत में दिल्ली रेफर कर दिया गया. दरवेश यादव दो दिन पहले ही बार काउंसिल की अध्यक्ष चुनी गई थीं. उनके स्वागत समारोह के बाद दीवानी कचहरी में आरोपी ने गोली मार दी. हत्या की वजह अब तक साफ नहीं हो पाई है.